नारायणपुर-कलेक्टर की अध्यक्षता में नये टीकों की शुरूआत हेतु बैठक संपन्न,वैक्सीन और कोल्ड चैन की तैयारियों की ली जानकारी

नारायणपुर-कलेक्टर अभिजीत ंिसह की अध्यक्षता में आज कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में टीकाकरण कार्यक्रम अंतर्गत नए टीकों की शुरूआत करने हेतु वैक्सीन और कोल्ड चेन की तैयारियों की संबंध में बैठक हुई। बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि महामारी को कम करने के लिए टीकाकरण एक प्रभावी माध्यम हैं। निकट भविष्य में कोविड-19 के खिलाफ टीके लगाने की संभावना है आध्ेर उक्त टीकों के रख-रखाव हेतु कोल्ड चैन प्रणाली का उपयोग हो सकता है। टीकों की सही गुणवत्ता बनाये रखने के लिए टीकों का सही रूप से भंडारण करना महत्वपूर्ण और आवश्यक है। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राहुल देव, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री एस.सी. बर्मन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ए.आर. गोटा, कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री रविकांत ध्रुर्वे, सिविल सर्जन डॉ एमके सूर्यवंशी, विकासखंड चिकित्सा अधिकारी डॉ बीएन बनपुरिया, डीपीएम सुश्री प्रिया कंवर के अलावा अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे। 

बैठक में कलेक्टर ने जिले में उपलब्ध कोल्ड चेन उपकरण की उपलब्धता की जानकारी ली, उन्होंने कहा कि जो कोल्ड चेन उपकरण सुधारवाने योग्य हैं, उन्हें सुधरवा लिया जाये और यदि इन उपकरणों की कमी है, तो राज्य स्तर से इसकी मांग की जाये। उन्होंने कहा कि संबंधित कर्मचारियों प्रोग्राम मैनेजर,  वेक्सीन एवं कोल्ड चेन हैंडलर, वक्सीन एवं कोल्ड चैन मैनेजर, कोल्ड चेन तकनीशियन आदि वेक्सीन और कोल्ड चेन हैंडलिंग/प्रबंधन में प्रशिक्षित होना चाहिए। प्रशिक्षित कर्मियों का डाटा टीकाकरण प्रशिक्षण प्रबंधन प्रणाली में प्रवेश किया जाना चाहिए। नियोजित निवारक रख-रखाव पीपीएम हेतु कार्ययोजना होनी चाहिए और पीपीएम के लिए चिन्हांकित चेक लिस्ट का उपयोग करने कहा।

कोल्ड चेन मैनेजमेंट सुदृढ़ीकरण हेतु मोबाईल आधारित सुपर विजय चेक लिस्ट, समस्त कोल्ड चेन प्वाइंट पर चिन्हांकित किये गये स्टाक और वितरा रजिस्टर ओर ईविन प्रणाली का उपयोग करने कहा। उन्होंने कहा कि किसी आपात कालीन स्थिति से निपटने के लिए कोल्ड चेन और ड्राई स्टोरेज की वैकल्पिक योजना की भी तैयारी करने कहा। उन्होंने टीकाकरण संबंधी टास्क फोर्स की बैठकों में कोल्ड चैन की तैयारियों पर चर्चा करने पर जोर दिया। बैठक में कलेक्टर ने जिले में चल रहे अन्य टीकाकरण की प्रगति एवं उपलब्ध दवाओं की विस्तृत जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने मैदानी स्तर पर टीकाकरण के दरमियान आने वाली दिक्कतों की भी जानकारी ली। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *