एक्सिस बैंक से दिन दहाड़े 3 लाख की ठगी…किशोर बूट हाउस कर्मचारी गया था रूपए जमा करने…सीसीटीवी पर पुलिस की नजर

city kotwaliबिलासपुर—कोतवाली थाना क्षेत्र में पुराना बस स्टैण्ड के पास एक्सिस बैंक में दिन दहाड़े तीन लाख रूपए ठगी का मामला सामने आया है। पुलिस को मामले की जानकारी करीब दो बजे के आस पास मिली है। देर शाम तक कोई भी व्यक्ति मामले की शिकायत करने थाना नहीं पहुंचा है। घटना किशोर बूट हाउस गोलबाजार कर्मचारी के साथ हुई है।

                                   जानकारी के अनुसार आज दोपहर करीब 12 बजे शिव टाकीज-पुराना बस स्टैण्ड के पास एक्सिस बैंक में तीन लाख रूपए ठगी का मामला सामने आया है। सूत्रों के अनुसार गोलबाजार स्थित किशोर बूट हाउस के मालिक ने अपने कर्मचारी को तीन लाख रूपए जमा करने एक्सिस बैंक भेजा। इसी बीच मामले की खबर ठग को लग गयी।

                            दुकान  कर्मचारी तीन लाख रूपए लेकर पुराना बस स्टैण्ड- शिव टाकीज रोड स्थित एक्सिस बैंक पहुंचा ही था। इसी बीच एक व्यक्ति आया और कहा कि किशोर बूट हाउस मालिक ने मुझे भेजा है। उन्होने कहा कि तीन लाख रूपए नहीं बल्कि बीस लाख रूपए जमा करना है। रूपए मुझे दो मैं इसमें बाकी रूपए मिलाकर देता हूं। दुकान कर्मचारी ने तीन लाख रूपए उस व्यक्ति को दे दिया। इसके बाद यकायक बैंक से रूपया लेने वाल व्यक्ति गायब हो गया।

                                         किशोर बूट हाउस के कर्मचारी उस व्यक्ति का कुछ देर इंतजार किया। इसके बाद वह अपने मालिक को घटनाक्रम की जानकारी दी। इतना सुनते ही दुकान मालिक बैंक पहुंच गया। बहुत तलाश के बाद भी वह व्यक्ति नहीं मिला…जिसे नौकर ने तीन लाख रूपए दिये थे। मामला पुलिस तक पहुंच गया है। लेकिन अभी तक किसी ने लिखित में शिकायत नहीं की है।

शिकायत के बाद होगी कार्रवाई

                          सीएसपी आईपीएस शलभ सिन्हा ने बताया कि मामले की जानकारी मिल गयी है। घटना करीब 12 बजे के आस पास की है। पुलिस को जानकारी करीब डेढ़ बजे के बाद मिली । अभी तक पीड़ित पक्ष की तरफ से एफआईआर दर्ज नहीं किया गया है। शिकायत के बाद पुलिस कार्रवाई करेगी। फिलहाल ठगी की सूचना पर पुलिस प्रशासन ने एतिहातन कठम उठाया है। एक्सिस बैंक से सीसीटीवी फुटेज मांगा गया है। फुटेज को खंगाला जाएगा। बैंक आने वाले एक एक व्यक्ति की पड़ताल होगी। दुकान कर्मचारी से भी पूछताछ होगी जिसने ठग को तीन लाख रूपए दिए हैं।

एफआईआर दर्ज नहीं

                    जानकारी मिल चुकी है। लेकिन अभी तक किसी ने ना तो शिकायत की है..ना ही एफआईआर ही दर्ज कराया है। पुलिस की नजर घटनाक्रम पर है। वरिष्ठ अधिकारियों की निगरानी में कार्रवाई हो रही है। शिकायत के बाद कार्रवाई तेज होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *