आयुर्वेदिक अस्पताल बनेगा कोविड हास्पिटल ..जिला पंचायत सीईओ हरीश ने किया निरीक्षण ..बताया..अंतिम फैसला लिया जाना बाकी

बिलासपुर—-बढ़ते कोरोना मरीज और अस्पताल में बेड की कमी के बीच आज कलेक्टर डॉ.सारांश मित्तर के निर्देश पर जिला पंचायत सीईओ हरीश एस ने जिला आयुर्वेदिक कालेल आस्पताल का मुआयना किया।  जानकारी के अनुसार जिला आयुर्वेद कालेज अस्पताल स्टाफ को जिला पंचायत सीईओ ने बताया कि कलेक्टर की मंशा है कि कोविड अस्पताल का निर्माण किया जाए। आने वाले दस दिनों के अन्दर जिला आयुर्वेद अस्पताल को कोविड अस्पताल में बदल दिया जाएगा।

                           कोरोना मरीजों की लगातार संख्या में बृद्धि होने से जिला प्रशासन की परेशानियां दिनों दिन बढती ही जा रही है। बिलासपुर जिले में धीरे धीरे बिस्तरों की कमी शुरू हो गयी है। कही भी बिस्तर खाली नहीं है। इन्ही तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर के निर्देश पर जिला पंचायत सीईओ हरीश एस जिला आयुर्वेदिक अस्पताल पहुंचे। उन्होने अस्पताल का  जायजा लिया। साथ ही अस्पताल प्रबंधन को निर्देश दिया कि आने वाले दस दिनों के अन्दर आयुर्वेदिक कालेज के संसाधनों को कोविड अस्पताल के उपयोग में लाया जाएगा।

                    जानकरी देते चलें कि जिला आय्रुर्वेदिक अस्पताल में मरीजों के लिए 60 बिस्तर है। बावजूद इसके अीज तक 5-6 मरीजों के अलावा अस्पताल में मरीज भर्ती  नही हुए। सारा सामान पूरी तरह सुरक्षित है। यहां नर्स आया, वार्ड ब्वाय से लेकर डाक्टर की प्रशिक्षित टीम भी है। शायद इन तमाम बातों को ध्यान में हुए जिला प्रशासन ने जिला आयुर्वेदिक अस्पताल को कोविड अस्पताल में बदलने का फैसला किया है।  सबसे बड़ी बात कि जिला प्रशासन को बहुत ज्यादा निवेश की भी जरूरत नहीं है

  लिया जाएगा  अन्तिम फैसला              

                   जिला पंचायत सीईओ हरीश एस ने बताया कि आज हमने जिला आयुर्वेदिक कालेज का मुआयना किया है। कुछ जरूरी निर्देश भी दिया गया है।यदि सब कुछ ठीक रहा तो आने वाले दस दिनों के अन्दर अस्पताल को कोविड अस्पताल में बदल दिया जाएगा। फिलहाल सारी जानकारी कलेक्टर के सामने रखेंगे। दो एक दिन के अन्दर फैसला हो जाएगा।

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *