लिपिक संघ से नहीं मिले सीसीएफ—महामंत्री ने लगाया संवादहीनता का आरोप…कहा…घेराव एक मात्र रास्ता

rohit_tiwari_cgबिलासपुर—छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ और सीसीएफ आनन्द बाबू के बीच विवाद तूल पकड़ता जा रहा है।आज अल्टिमेटम देने पहुंचे लिपिक संघ पदाधिकारियों से सीसीएफ की मुलाकात नहीं हुई है। मुलाकात नहीं होने से नाराज लिपिक संघ के नेताओं ने कहा कि सोमवार को सीसीएफ को मुख्यालय पर होना चाहिए। लेकिन उन्होने ऐसा नहीं कर एक बार फिर स्वैच्छाचारिता का परिचय दिया है।
                                 मालूम हो कि एक दिन पहले छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ ने सीसीएफ आनन्द बाबू पर तानाशाही और मनमानी का आरोप लगाया था। पत्रकारों को रोहित तिवारी ने बताया था कि 25 सितम्बर को सीसीएफ से मुलाकात कर अंतिम बार शिकायतों को सामने रखेंगे। सोमवार को बी.आनन्द बाबू शासन के आदेशानुसार कार्यालय पर रहेंगे। मांग पूरी नहीं होने और स्वैच्छाचारिता पर अंकुश नहीं लगाए जाने पर 5 अक्टूबर को रायपुर में उग्र आंदोलन करेंगे।
                               आज दोपहर लिपिक संघ के प्रदेश महामंत्री रोहित तिवारी संघ पदाधिकारियों के साथ सीसीएफ से मुलाकात करने कार्यालय पहुंचे। लेकिन कार्यालय में सीसीएफ नहीं मिले। रोहित तिवारी ने बताया वन कर्मचारियों के अनुसार सीसीएफ रायपुर गए हैं। ऐसा कर उन्होने एक बार फिर उन्होने स्वैच्छाचारिता का परिचय दिया है। शासन के आदेशानुसार संभाग के सभी छोटे बड़े अधिकारियों को सोमवार को कार्यालय में रहना अनिवार्य है। बावजूद इसके लिपिक संघ से नहीं मिलने का बहाना बनाकर सीसीएफ रायपुर निकल गए है।
                        सीसीएफ पर संवादहीनता का आरोप लगाते हुए महामंत्री रोहित तिवारी ने कहा कि अब संघ के सामने 5 अक्टूबर को रायपुर में उग्र प्रदर्शन के अलावा दूसरा रास्ता नहीं है। पिकों को सड़क पर उतरने के लिए सीसीएफ मजबूर कर रहे हैं। मुख्य वन संरक्षक बिलासपुर लेखापाल हेमंत सिंह बघेल का नियम विरूद्ध स्थानांतरण समेत सभी कर्मचारी विरोध आदेश को तत्काल निरस्त करें। अन्यथा आंदोलन के दौरान किसी प्रकार की प्रतिक्रिया के लिए तैयार रहें।
                              सीसीएफ से मिलने पहुंचे महामंत्री रोहित तिवारी के अलावा छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ  सुनील यादव,प्रदीप शर्मा, हेमंत बघेल, अशोक मेहता, अनिल करूण,अमित डे शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *