प्रदेश में 15 मई तक जनता कर्फ्यू लगाया गया,सीएम ने दिया आदेश

Shivraj Singh Chauhan, Tiger Zinda Hai, Budhani, Tiger Is Still Alive, Kamalnath, Madhya Pradesh,

भोपाल।मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए गुरुवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बड़ा फैसला लिया है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ‘किल कोरोना-2 अभियान’ के संबोधन में कहा कि मैं आग्रह करता हूं 15 मई तक हम सबकुछ बंद करें। कड़ाई से जनता कर्फ्यू (Janta Curfew) लगाया जाए। अनंत काल तक हम बंद नहीं रख सकते। लेकिन 18 प्रतिशत से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट में हम खोल भी नहीं सकते। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अपने वर्चुअल संबोधन में कहा प्रदेश में कोरोना मरीज़ों का पॉजिटिविटी रेट लगातार हमारा गिरता जा रहा है। स्वस्थ होने की दर बढ़ रही है, जो पॉजिटिविटी रेट 25 प्रतिशत तक पहुंच गया था वो अब घटकर 18 परसेंट तक आ गया है। सीएम शिवराज ने कहा कि 15 मई तक जनता कर्फ्यू रहेगा। अब गांव में भी संक्रमण फैल रहा है, जिन जिलों में पॉजिटिव केस की संख्या ज्यादा है और गांव का संक्रमण नहीं रोका तो स्थिति भयानक हो जाएगी। सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि गांव में जहां संक्रमण है अगर वहीं नहीं रोका तो कल भयानक स्थिति पैदा हो जाएगी। जरा भी ढिलाई कि तो बड़े संकट में फंस जाएंगे। उन्होंने प्रदेश की जनता से अपील की कि 15 मई तक आपका सहयोग चाहिए। 

सीएम शिवराज ने “किल कोरोना-2 अभियान” को लेकर संबोधित करते हुए कहा कि कई लोगों की मानसिकता है कि इस बीमारी को छुपाते हैं, इसे न छुपायें। किल कोरोना अभियान की टीमें अब मरीजों को ढूंढकर वहीं के वहीं उनका इलाज करेंगी। उन्हें तत्काल दवाइयां मिलेंगी। किसी घऱ में 15 मई तक कोई संक्रमित छूट न जाये। एक एक व्यक्ति को ढूंढ़ कर निकालना है। आज हम फैसला कर रहे हैं कि बाकी अस्पतालों को भी आयुष्मान भारत योजना के तहत अनुबंधित करा के कोविड के संकट में लोगों का इलाज करवाना शुरु करेंगे। आयुष्मान भारत योजना में 88 प्रतिशत परिवार पहले से कवर हैं। जो पैसा लगेगा वो सरकार अपने खजाने से भरेगी।

सीएम शिवराज ने कहा कि कल यानि 7 मई से ये योजना लागू होगी। जनता को विशेषकर गरीबों को निशुल्क इलाज मिले हम ये सुनिश्चित करेंगे। अस्पतालों को हम पैकेज देंगे और गरीबों का, आम लोगों का, मध्यमवर्गीय लोगों का भी इलाज करायेंगे। सभी कलेक्टर आयुष्मान भारत योजना के कार्डधारियों की सूची निकाल लें। जो परिवार रह गये हैं उनके तुरंत कार्ड बनाये जायें। जो व्यक्ति रह गये हैं उन्हें तुरंत जोड़ा जाये। लेकिन सबका इलाज कराया जायेगा। इस पैकेज के अनुसार निशुल्क इलाज हो, जनता का पैसा न लगे। ये युद्धस्तर पर प्रयास करना है। प्रभारी मंत्री विशेषकर कलेक्टर इसे देखेंगे। योजना के तहत आपको अस्पतालों से बात करना है।  सीटी स्कैन भी निशुल्क होगा। हम पैसा देंगे। इसकी योजना भी हमने बनाई है। इसी पैकेज में होगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *