Loksabha Result 2024: किसने कह दिया- PM Modi को प्रधानमंत्री पद की दावेदारी छोड़ देनी चाहिए

Loksabha Result 2024/Rajasthan/राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को कहा कि मतगणना के रुझानों के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पद की दावेदारी छोड़ देनी चाहिए, क्योंकि भाजपा ने उनके नाम पर पूरा चुनाव लड़ा था और वह उसे स्पष्ट बहुमत दिलाने में नाकामयाब रहे।

Join Our WhatsApp Group Join Now

Loksabha Result 2024/राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री ने एक्स पर लिखा, “अब यह स्पष्ट हो गया है कि न तो भाजपा को 370 सीटें मिल पाएंगी और न ही एनडीए को 400 सीटें मिलेंगी। प्रधानमंत्री मोदी के नाम पर भाजपा को स्पष्ट बहुमत भी नहीं मिल पा रहा है।

Loksabha Result 2024/ऐसे में नरेन्द्र मोदी को अपना नाम अब प्रधानमंत्री पद की दावेदारी से हटा लेना चाहिए।” उन्होंने कहा कि पीएम ने 2024 का लोकसभा चुनाव पूरी तरह अपने ऊपर केंद्रित किया। गहलोत ने कहा, “प्रचार में ‘मोदी की गारंटी’, ‘फिर से मोदी सरकार’ जैसे जुमले भाजपा शब्द से ज्यादा सुनाई और दिखाई दिए।

Loksabha Result 2024/यहां तक की सांसद प्रत्याशियों को बाईपास कर पूरा चुनाव ‘मोदी की गारंटी’ के नाम पर चला।” उन्होंने कहा कि चुनाव में महंगाई, बेरोजगारी, समाज में बढ़ता तनाव जैसे मुद्दे गौण हो गए और केवल ‘मोदी-मोदी’ ही सुनाई देने लगा। कांग्रेस नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री ने संसद में अपने नेतृत्व में भाजपा के 370 और एनडीए के 400 सीटें पार करने का दावा किया था, लेकिन रुझानों को देखकर अब ऐसा होता नहीं दिख रहा है।

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीतराम येेचुरी ने केंद्र में इंडिया गठबंधन की सरकार बनने पर संशय जताया है। उन्होंने कहा कि मतगणना के प्रारंभिक रुझानों से अभी यह नहीं कहा जा सकता कि किसकी सरकार बनेगी। मंगलवार दोपहर पत्रकारों से बात करते हुए माकपा नेता ने कहा कि मतगणना के रुझानों को देखते हुए अभी यह कहना बहुत जल्दबाजी होगी कि केंद्र में किसकी सरकार बनेगी। हालांकि उन्होंने इंडिया गठबंधन द्वारा अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद जताई।

माकता नेता ने कहा कि दोनों ही गुटों के बीच कांटे की लड़ाई हुई है। इसलिए जब तक सभी सीटों का चुनाव परिणाम सामने नहीं आ जाता, तब तक यह कहना बहुत मुश्किल है कि किसकी सरकार बनेगी। येचुरी ने एग्जिट पोल को निरर्थक बताते हुए कहा कि इसका वास्तविकता से कोई लेना देना नहीं था। यह मात्र शेयर बाजार को प्रभावित करने के लिए लाया गया था। इसके जरिए बाजार में तेजी लाकर कुछ लोग कमाई कर गए। निहित स्वार्थी लोगों ने एग्जिट पोल का दिखावा किया था।

माकपा नेता ने कहा कि चुनाव परिणाम एग्जिट पोल के उलट होने जा रहे हैं। येचुरी ने कहा कि केंद्र सरकार की नीतियां आम आदमी के अनुकूल नहीं हैं। सरकार केवल संपन्न वर्ग के लिए काम कर रही है। यही कारण हैै कि देश में आर्थिक असमानता बढ़ती जा रही है। अमीर और अमीर होता जा रहा है और गरीब और गरीब होता जा रहा है। आम आदमी की परेशानी को दूर करने के लिए सरकार कोई काम नहीं कर रही। इसीलिए जहां देश में बेरोजगारी बढ़ती जा रही है, वहीं लोगों की आय भी घटती जा रही है। इसलिए केंद्र की आगामी सरकार को आम आदमी के हित में कार्य करना होगा, ताकि वो भी विकास की मुख्य धारा में शामिल हो सकें

                   

Shri Mi

पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
Back to top button
close