हर-हर महादेव के जयघोष के साथ निकली महायज्ञ की नगर निमंत्रण शोभायात्रा..चौक चौराहों में फूल मालाओं और आतिशबाजी से हुआ स्वागत..व्यापारी, नेता और सैकड़ों श्रद्धालुओं ने किया अभिनंदन

बिलासपुर।परमहंस स्वामी शारदानंद सरस्वती के सानिध्य में आयोजित  रुद्रातिरुद्र महायज्ञ की नगर निमंत्रण शोभायात्रा राम मंदिर तिलक नगर से निकली। हर-हर महादेव के जयघोष के साथ शहर के चौक चौराहे में सैकड़ों श्रद्धालुओं और नगर के लोगों ने यात्रा का स्वागत अभिनंदन किया । देश भर से आए साधु संतों की अगुवाई में यह यात्रा शहर के मुख्य मार्ग होते हुए महायज्ञ स्थल पहुंची। इस शोभायात्रा में धार्मिक, आध्यात्मिक और कोरोना संक्रमण जागरूकता की जीवंत झांकियां भी सजाई गई थी। शोभायात्रा में स्वयं परमहंस स्वामी शारदानंद जी सरस्वती एवं महामंडलेश्वर हरिहरानंद सरस्वती सहित सहित बड़ी संख्या में संत शामिल रहे।शोभा यात्रा दोपहर 12 बजे तिलक नगर से निकलकर देवकीनंदन चौक पहुंची।  यहां स्थानीय व्यापारियों ने शोभा यात्रा का फूल मालाओं से स्वागत अभिनंदन किया। साथ ही हर हर महादेव के जयकारे भी लगाए। भगवान के भजन के साथ बग्घी में सवार संतों के साथ यात्रा करोना चौक पहुंची ।

व्यापारी संघ सहित बजरंग दल व अन्य लोगों ने धूमधाम से शोभा यात्रा का स्वागत किया। इसके बाद शोभायात्रा विशाल रूप लेती हुई गोल बाजार चौक पहुंची यहां सांसद अरुण साव,पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल, किशोर राय, राजेश मिश्रा, अमरजीत दुआ सहित अन्य भाजपा नेताओं ने आतिशबाजी से यात्रा की अगवानी की और सिटी कोतवाली चौक से शोभायात्रा तेलीपारा की ओर मुड़ी। यहां पर नगर विधायक शैलेश पांडे, विष्णु मुरारका, भास्कर यादव, शैलेंद्र जायसवाल, शहजादी कुरैशी, रामा बघेल सहित अन्य लोगों ने शोभा यात्रा का अभिनंदन किया। बाजे गाजे और वैदिक मंत्रोच्चार और भगवान भोलेनाथ के जयघोष के साथ शोभायात्रा नगर को निमंत्रण देती हुई पुराना बस स्टैंड चौक पहुंची ।

यहां पर बस स्टैंड व्यापारी संघ, युवा दल सहित सैकड़ों श्रद्धालुओं ने बाजे गाजे और फूल मालाओं के साथ समस्त संतों का अभिनंदन किया। यह शोभायात्रा लगातार विशाल रूप लेती हुई अग्रसेन चौक पहुंची। जहां पर अग्रसेन चौक व्यापारी संगठन अन्य संगठनों ने साधु संतों सहित सभी श्रद्धालुओं का अभिनंदन किया। ब्रह्मा, विष्णु, महेश, चित्रगुप्त, तांत्रिक प्रेत की झांकी के अलावा जटायु रावण युद्ध  की जीवंत झांकियां  लोगों को लुभा रही थी । उड़ीसा के प्रसिद्ध घंटा पार्टी के साथ छत्तीसगढ़ के प्रसिद्ध करमा नित्य राउत नाच के साथ यात्रा लगातार शोभायमान होती जा रही थी। शोभायात्रा अब श्रीकांत वर्मा  मार्ग में पहुंची।यहां व्यापार विहार सहित अंचल के अनेक व्यापारी संगठनों ने शोभा यात्रा का स्वागत किया और जमकर आतिशबाजी भी की।

आयोजन समिति के संयोजक गिरधारी लाल अग्रवाल ने बताया कि महायज्ञ की परंपरा के अनुसार शहर निमंत्रण की शोभायात्रा का कार्यक्रम आज बहुत ही हर्षोल्लास और विधि विधान से संपन्न हुआ। गुरुवार को विनोबा नगर निर्मला सदन से प्रातः 8 बजे कलश यात्रा निकलेगी जो महायज्ञ स्थल पहुंचेगी । उन्होंने बताया कि देश भर से संत श्रद्धालु और धार्मिक आस्था से जुड़े हजारों लोग यहां पहुंच चुके हैं और बिलासपुर की पावन धरा में अब रूद्रातिरूद्र महायज्ञ की करोड़ों आहुतियां डाली जाएंगी। आज की शोभायात्रा में विशेष रुप से स्वामी शारदानंद सरस्वती जी के साथ महानिर्वाणी अखाड़ा के  आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी विशोकानंद जी महाराज बीकानेर , महामंडलेश्वर स्वामी विनयदास जी महाराज जोधपुर एवं अन्य संत महात्माओं ने  रथ में सवार होकर शहर भर भ्रमण किया । महायज्ञ के आचार्य पद्म भूषण आचार्य श्री चिंतामणि कर हैं । श्रीमद् भागवत कथा के व्यास आचार्य राममूर्ति  मिश्र जी महाराज  ने भी रथ में सवार होकर भ्रमण किया। इस अवसर पर आयोजन समिति के अध्यक्ष महेश अग्रवाल, संयोजक बेनी गुप्ता, पंडित दिनेश पांडे, डॉ जकुमार खेत्रपाल, राजेंद्र अग्रवाल,विष्णु मुरारका, बृजेश अग्रवाल, जुगल गाडोदिया, पुरुषोत्तम चंद्राकर , सत्य नारायण पांडे ,हर्ष द्विवेदी सुनील अग्रवाल हर्षवर्धन अग्रवाल एवं अन्य शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *