फर्जी पुलिस अधिकारी बनकर वसूली करने वाला गिरफ्तार

राजस्थान से एक 24 साल के युवक को गिरफ्तार किया गया है जो खुद को एक पुलिस अधिकारी बता रहा था और वसूली कर रहा था. इस फर्जी पुलिस अधिकारी ने सोशल मीडिया पर दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना की फोटो को प्रोफाइल पिक्चर के रूप में लगा रखा था. अब इसे गिरफ्तार कर लिया गया है.अधिकारियों ने बताया कि आरोपी की पहचान राजस्थान के भरतपुर के रहने वाले हकमुद्दीन के रूप में हुई है. उन्होंने बताया कि पुलिस को एक शिकायत मिली थी जिसमें शिकायतकर्ता को फेसबुक पर एक महिला की फ्रेंड रिक्वेस्ट मिली और उसने बाद में उसका व्हाट्सएप नंबर मांगा. पुलिस ने कहा कि कुछ समय बाद, शिकायतकर्ता के व्हाट्सएप पर अश्लील सामग्री के साथ एक वीडियो कॉल आया और बाद में, उन्हें खुद का एक मॉर्फ और आपत्तिजनक वीडियो मिला.

1 लाख 96 हजार रुपए ठगे

इसके बाद आरोपी ने इंटरनेट से डाउनलोड की गई दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना की तस्वीर का इस्तेमाल करते हुए पुलिस अधिकारी होने का नाटक करते हुए पीड़ित फोन किया. पुलिस ने कहा कि आरोपी ने वीडियो को ऑनलाइन अपलोड होने से रोकने के लिए पैसे देने को कहा और शिकायतकर्ता ने उसकी बात मानी और 1,96,000 रुपये का भुगतान किया.

जांच के दौरान यह पाया गया कि शिकायतकर्ता को कॉल करने के लिए इस्तेमाल किए गए मोबाइल नंबर असम से खरीदा गया था और भरतपुर में इस्तेमाल किया जा रहा था. उन्होंने बताया कि जिन बैंक खातों में वसूली की रकम जमा कराई गई थी, उसकी पहचान कर ली गई.

तीन आरोपी फरार

पुलिस उपायुक्त (साइबर) केपीएस मल्होत्रा ​​ने कहा कि मनी ट्रेल की पहचान, सोशल मीडिया खातों और फोन नंबरों के तकनीकी विश्लेषण के बाद, हकमुद्दीन की पहचान की गई और उसे शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस ने कहा कि उसके गांव के ही तीन सहयोगियों की पहचान कर ली गई है और वे फिलहाल फरार हैं. हकमुद्दीन इसी तरह के अन्य मामलों में भी शामिल रहा है.

ऐसे करते हैं ब्लैकमेल

पुलिस ने कहा कि भरतपुर से चलने वाले गैंग का एक तरीका है कि वे एक महिला की प्रोफाइल का उपयोग करके कुछ लोगों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजेंगे. एक बार जब व्यक्ति फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर लेगा, तो वे उस व्यक्ति के साथ व्हाट्सएप पर चैट करना शुरू कर देंगे. कुछ समय बाद, वे उस व्यक्ति को वीडियो कॉल पर लेकर उसका अश्लील वीडियो बना लेंगे और इससे पीड़ित को ब्लैकमेल करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *