माओवादियों ने अपहरण के बाद की सबइंस्पेक्टर की हत्या, सम्मान के साथ दी गई शहीद को अँतिम बिदाई

ज़गदलपुर । माओवादियों ने बस्तर के बीज़ीपुर इलाक़े से अपहृत सबइंस्पेक्टर मुरली तांती की हत्या करर दी । 2018 में जिला बीजापुर से स्थानांतरण पर जिला बस्तर आमद देने के पश्चात् उप निरीक्षक मुरली तांती  पिछले तीन साल से जिला बस्तर में तैनात होकर कार्यरत् थे । शनिवार को पुलिस के आला अफ़सरों और जनप्रतिनिधियों ने शहीद मुरली तांती को सलामी दी और सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया । बस्तर आी जी सुंदर राजन् पी. ने उनकी पत्नी और परिज़न से मिलकर उनके प्रति शोक व्यक्त किया और मदद का भरोसा दिलाया है।

इस दौरान 22 अप्रैल को सूत्रों के माध्यम से जानकारी प्राप्त हुई कि उप निरीक्षक मुरली तांती को उनके गृहग्राम पालनार, थाना गंगालूर, जिला बीजापुर से कुछ माओवादियों द्वारा अपहरण कर लिया गया है।उक्त जानकारी मिलने पर आसपास के सुरक्षा कैम्पों से उप निरीक्षक मुरली तांती की पतासाजी के लिए बल रवाना कर लगातार थाना गंगालूर एवं उस क्षेत्र में सर्चिंग अभियान की कार्यवाही की गई। उप निरीक्षक मुरली तांती के पतासाजी हेतु उनके परिजन, ग्रामीण एवं समाज के लागों द्वारा भी आसपास क्षेत्र में खोजबीन गई।  उप निरीक्षक मुरली तांती को माओवादियों द्वारा अपहृत किये जाने की संभावना को देखते हुये जिला बीजापुर के गोड़वाना समाज समन्वयक समिति द्वारा उन्हें रिहा करने हेतु माओवादियों से अपील करते हुये एक विज्ञप्ति जारी की गई तथा उनके प्रतिनिधि मण्डल ग्राम पालनार के आसपास क्षेत्र में उप निरीक्षक मुरली तांती की पतासाजी हेतु 23 अप्रैल को सुबह रवाना हुआ था।जिला बस्तर के वरिष्ठ समाज सेवी पद्मश्री श्री धरमपाल सैनी द्वारा भी उप निरीक्षक मुरली तांती की रिहाई हेतु 23 अप्रैल को एक अपील विज्ञप्ति जारी की गई।
     लगातार की गई पतासाजी तथा प्राप्त आसूचना के आधार पर उप निरीक्षक मुरली तांती सीपीआई माओवादियों के गंगालूर एरिया कमेटी सचिव दिनेश मुड़ियाम एवं उनके साथी माओवादी कैडर्स के कब्जे में होना पाया गया। लेकिन माओवादियों द्वारा इस संदर्भ में किसी प्रकार की प्रेस विज्ञप्ति या पर्चा जारी नहीं की गई। उप निरीक्षक मुरली तांती को माओवादियों के कब्जे से रिहा कराने हेतु हरसंभव प्रयास किया जा रहा था। 
इस दौरान शनिवार को जिला बीजापुर अंतर्गत थाना गंगालूर के ग्राम पेद्दापारा के आसपास माओवादियों द्वारा अपहरण किये गये उप निरीक्षक मुरली तांती की हत्या कर उसके शव को छोड़ दिया गया। घटनास्थल के पास माओवादी पश्चिम बस्तर डिवीजन कमेटी द्वारा उप निरीक्षक मुरली तांती की हत्या किये जाने की बात का उल्लेख करते हुये पाम्पलेट भी छोड़ा गया। उप निरीक्षक मुरली तांती का शव घटनास्थल से बरामद कर पोस्टमार्टम के पश्चात् बीजापुर रक्षित केन्द्र में विक्रम शाह मण्डावी, विधायक बीजापुर, सुन्दरराज पी., पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज, डी. प्रकाश, पुलिस महानिरीक्षक, सीआरपीएफ, छत्तीसगढ़ सेक्टर रायपुर, रितेश अग्रवाल, कलेक्टर, बीजापुर, कमलोचन कश्यप, पुलिस अधीक्षक, बीजापुर तथा जनप्रतिनिधि व वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा सलामी दी जाकर बीजापुर में अंतिम संस्कार किया गया। 
सुन्दरराज पी., पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज द्वारा शहीद उप निरीक्षक मुरली तांती की पत्नी श्रीमती मैनो तांती एवं उनके परिजनों से मुलाकात कर मुरली तांती की पतासाजी एवं रिहाई के लिए किये गये प्रयासों के संबंध में जानकारी  देते हुये विभाग एवं शासन की ओर से शोकाकुल परिवार को सांत्वना दी जाकर सभी प्रकार के मदद का आश्वासन दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *