माता मावली मेला का विधायक चंदन कश्यप ने किया शुभारंभ,कहा-मेला लोक कला और संस्कृति का संगम

नारायणपुर। नारायणपुर जिले का ऐतिहासिक माता मावली मेला का शुभारंभ हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष एवं स्थानीय विधायक चंदन कश्यप ने आज माता मावली के चित्र पर दीप प्रज्जवलित कर किया। उन्होंने कहा कि बस्तर अंचल के लोगों का मड़ई-मेला लोक, कला और संस्कृति का संगम है। यह मेला जिले का ऐतिहासिक और ख्याति प्राप्त मड़ई-मेला है। उन्होंने कहा कि स्थानीय लोगों के सगे-संबंधी दूर-दूर से यहां की लोक, कला, संस्कृति, रीति-रिवाज और परम्पराओं से रूबरू होने एवं देखने प्रति वर्ष यहां आते हैं।

श्री कश्यप ने कहा कि आज से 5 दिनों तक लोगों को और सैलानियांे को इस मंच पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की झलक देखने को मिलेगी। उन्होंने अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि माता के आशीर्वाद से जिले में चौतरफा विकास हो रहा है। शुभारंभ से पहले 84 परगना के देवी-देवता माता मावली मंदिर से आंग, डोली, छत्र सहित बैरक (झंडा) आदि लेकर मार्ग में परम्परा और रीति-रिवाज से नाच-गान, उछल-कूद करते हुए पूजा स्थल अड़मावली पहुंचे। इस मौके पर उनके साथ क्षेत्र के श्रद्धालुगण और स्थानीय लोग शामिल हुए।

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी राहुल देव ने कहा कि यह मेला संस्कृति और परम्पराओं का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि यह अच्छी बात है कि यहां के लोग पुरानी परम्पराओं को बनाये रखने और उसे संरक्षण दे रहे हैं। यह मेला यहां के लोगों के लिए आस्था और श्रद्धा का केन्द्र है। दूर-दूर से लोग यहां आकर अपनी कलाओं का प्रदर्शन करते हैं और इस मेले से जरूरत के सामग्रियों का क्रय भी करते हैं। उन्होंने अतिथियों का स्वागत किया।

शुभारंभ कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष श्यामबती नेताम ने की। वहीं विशिष्ट अतिथि के तौर पर नगर पालिका अध्यक्ष सुनीता मांझी, जिला पंचायत उपाध्यक्ष देवनाथ उसेण्डी, नगर पालिका उपाध्यक्ष प्रमोद नेलवाल सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधी, गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में ग्रामीणजन मौजूद थे। एसडीएम दिनेश कुमार नाग ने सभी का आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *