कोविड अस्पताल के वार्डों में CCTV कैमरा लगाएं और बिलासपुर में उपलब्ध खाली बेड की जानकारी टेलीफोन पर मिले..महापौर रामशरण यादव ने CM भूपेश बघेल को दिया सुझाव

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश भर के नगर निगमों के महापौरों से कोविड-19 को लेकर सीधी बातचीत की। इस दौरान उनके सामने कई सुझाव रखे गए। बिलासपुर महापौर रामशरण यादव ने इस मौके पर मुख्यमंत्री को नगर निगम की ओर से कोविड-19 के दौरान किए गए सभी उपायों का सिलसिलेवार ब्यौरा दिया। साथ ही शहर के कोविड अस्पतालों में खाली बेड की संख्या और अस्पतालों में भर्ती मरीजों के बारे में जानकारी लेने के लिए वार्डों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का सुझाव दिया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से रूबरू होते हुए बिलासपुर नगर निगम महापौर रामचरण यादव ने बताया कि कोविड-19 के दौर में नगर निगम की ओर से शहर में किस तरह के कार्य किए गए हैं। उन्होंने जानकारी दी कि भारती नगर में एक 70 वर्षीय बुजुर्ग की सामान्य मौत होने पर लोग अंतिम संस्कार के लिए सामने नहीं आए। जानकारी मिलने पर नगर निगम के दस्ते के अमले के साथ महापौर खुद भी मौके पर पहुंचे । उन्होंने अंतिम संस्कार का पूरा इंतजाम किया और खुद भी बुजुर्ग को कंधा देकर मुक्तिधाम तक पहुंचाया।
उन्होंने बताया कि शहर में संक्रमण की तादाद को देखते हुए नगर निगम की ओर से राजकिशोर नगर में नया श्मशान घाट शुरू किया गया।

तोरवा मुक्तिधाम में नया अतिरिक्त शेड का निर्माण किया गया। महापौर रामशरण यादव ने सुझाव दिया कि कोविड मरीज अस्पतालों के जिस वार्ड में भर्ती होते हैं उन वार्डों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने चाहिए। चूंकि हामारी के इस भयानक दौर में मरीज के परिजन भी चिंतित होते हैं और अपने मरीज का हाल-चाल जानने के लिए भी उनके अंदर जिज्ञासा होती है। इसी तरह 24 घंटे टेलीफोन पर इस तरह की पूरी सूचना उपलब्ध होनी चाहिए कि शहर के अस्पतालों में कितने बेड उपलब्ध हैं और इससे मरीज को अस्पताल तक पहुंचाने में काफी आसानी हो सकती है।

रामशरण यादव ने बताया कि बिलासपुर में भारती नगर, सरकंडा और मधुबन मुक्तिधाम में विद्युत शवदाह गृह निर्माण के लिए दो करो रुपए मुख्यमंत्री की ओर से दिए गए हैं , पचास लाख रुपए नगर निगम की ओर से व्यवस्था की जा रही है। तीनों जगह विद्युत शवदाह गृह का निर्माण कराया जाएगा। फास्ट इंडिया ऐप के माध्यम से राशन और दूसरी सामग्री प्रदाय की जा रही है। इसका लाभ हर रोज सात आठ सौ लोग उठा रहे हैं । उन्होंने बताया कि अंतिम संस्कार के लिए लोगों को नगर निगम की ओर से लकड़ी की व्यवस्था मुफ्त में की जा रही है। साथ ही अरपापार सरकंडा में बनाए जा रहे 40 बेट के कोविड अस्पताल में सेंट्रल ऑक्सीजन सिस्टम के लिए महापौर मद से 14 लाख की राशि दी गई है।

इससे कोविड अस्पताल के सभी बेड तक ऑक्सीजन की सप्लाई हो सकेगी। उन्होंने बताया कि नगर निगम की ओर से भोजन की भी व्यवस्था की जा रही है। यह भोजन गरीबों को मुफ्त में दिया जा रहा है। और जो लोग भुगतान करने में सक्षम है उन्हें 50 रुपए प्रति थाली के हिसाब से भोजन मुहैया कराया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *