कबीरधाम में मेडिकल कॉलेज की होगी स्थापना,पिपरिया में खुलेगा स्वामी आत्मानन्द अंग्रेजी माध्यम स्कूल

रायपुर/ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज अपने प्रदेशव्यापी भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान कबीरधाम जिले के सहसपुर लोहारा गांव पहुंचे। श्री बघेल का यादव समाज के परम्परागत वस्त्र और पारंपरिक खुमरी पहनाकर भव्य स्वागत किया गया। सहसपुर लोहारा में मुख्यमंत्री श्री बघेल ने अनुविभागीय राजस्व मुख्यालय का शुभारंभ किया। यह कबीरधाम जिले का चौथा अनुविभागीय राजस्व कार्यालय होगा। मुख्यमंत्री श्री बघेल पितराही में शिव मंदिर भी पहुंचे और पूजा अर्चना कर छत्तीसगढ़वासियों के लिए सुख, समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंह देव, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, पंडरिया विधायक श्रीमती ममता चंद्राकर उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा सहसपुर लोहारा में कई बड़ी घोषणाएं की गई। उन्होंने कबीरधाम में मेडिकल कॉलेज की स्थापना करने और पिपरिया में स्वामी आत्मानन्द अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि सहसपुर लोहारा के वार्ड नंबर 09 में नया तालाब का सौंदर्यीकरण किया जायेगा, वार्ड 2-3 में मुक्तिधाम से बासीनझोरी सड़क एवं पुलिया निर्माण, वार्ड 11 में मुक्तिधाम का उन्नयन कार्य किया जायेगा, उड़ियाखुर्द से कौहारी मार्ग पुल पुलिया सहित बनवाया जायेगा, ग्राम खोलवा से ग्राम कुम्हारी सिंघनपुरी तक सड़क निर्माण करवायेंगे, ग्राम घुघरी से ग्राम मरपा तक सड़क का निर्माण करवाया जायेगा, 240 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा हेतु घटोला जलाशय का निर्माण करवाया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री बघेल सहसपुर लोहारा के साहू पारा पहुंचे और किसान मोहन साहू के घर कांसे की थाली में छत्तीसगढ़ का पारम्परिक भोजन किया। मुख्यमंत्री को मोहन साहू ने बताया कि वह भूमिहीन है। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को निर्देशित करते हुए कहा कि श्री मोहन साहू यदि भूमिहीन है और पात्रता में आते है तो उन्हें राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना का लाभ दें। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने मोहन साहू के परिवार को शाल, साड़ी भी भेंट किया।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने लोगों से कहा कि भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के माध्यम से योजना का क्रियान्वयन जानने आपके बीच आये हैं। उन्होंने कहा कि दीवाली से पहले आगामी 17 तारीख को राजीव गांधी किसान न्याय योजना की किश्त की राशि किसानों को मिल जाएगी।

भेंट-मुलाकात के दौरान श्रीमती तारामती पटेल ने बताया कि आंगनबाड़ी में उनके बच्चे का वजन लेने पर पता चला कि उसका वजन कम है। उन्हें मुख्यमंत्री सुपोषण योजना के बारे में पता चला। पहले बच्चे का वजन 6 किलो था अब योजना का लाभ मिलने से 12 किलो हो गया है। उसे हार्ट का भी प्राब्लम था, जिसका इलाज फ्री में हुआ है।

घनश्याम साहू ने मुख्यमंत्री को बताया कि डेढ़ लाख का ऋण माफ हुआ। लाभ की राशि से प्रीत कंपनी का ट्रैक्टर खरीदा, धान के बोनस से किस्त पटा रहा हूं। अतिरिक्त कमाई हुई उससे पत्नी के लिए पायल, बिछाया की खरीदी की है। किसान विजय ने बताया कि उन्होंने ढाई लाख का धान बेचा है, उसके पैसे से खेत में ट्यूबवेल और 3 एचपी का पंप लगाया है। अब वे गन्ने की खेती कर रहे हैं। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान हितैषी योजनाओं से ग्रामीण अर्थव्यवस्था में तेज गति से विकास हो रहा है।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि राज्य सरकार रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के तहत रोजगार दे रही है। 28 जिलों में सी-मार्ट बन गया है, बाकी जिलों में भी जल्द बनाएंगे। स्व-रोजगार और स्वावलंबन की दिशा में हम लगातार बढ़ रहे हैं। मुख्यमंत्री ने इस दौरान किसानों को पैरा दान की अपील की और कहा कि पैरा जलाए नहीं, गोठान में दान करें। जिस तरह रामसेतु के निर्माण में गिलहरी का योगदान था। उसी तरह जलवायु परिवर्तन में सबका योगदान हो, हमें कार्बन उत्सर्जन को रोकना है।
ग्राम रेंगाटोला के श्री मुकेश्वर शर्मा ने कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री हाट बाज़ार योजना से उनका फ्री में इलाज हो रहा है। फ्री में दवाईयां भी मिलती हैं। हर सप्ताह बीपी, शुगर की जांच भी हो रही है। आपकी सरकार में सभी योजनाओं का लाभ मिल रहा है। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी को पैसा देना न पड़े इसलिए इस तरह की योजनाएं बनाई गई हैं। पांडा तराई के संजय चंद्रवंशी ने भी बताया कि पांडातराई के बाजार में अचानक उनकी तबीयत बिगड़ने पर हाट बाजार क्लीनिक में मुफ्त इलाज और दवाई की सुविधा मिली। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को स्वामी आत्मानंद स्कूल की कक्षा दसवीं की छात्रा मृणाल पांडेय और डॉली अरोरा ने अंग्रेजी में बात करते हुए स्कूल में मिलने वाली सुविधाओं के बारे में बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *