मंत्री अनिला भेड़िया ने इधर 280 जोड़ों को दिया प्यार..उधर व्यवस्था पर भड़के कांग्रेसी..कहा.भूपेश बघेल, मरकाम से करेंगे अधिकारियों की शिकायत

BHASKAR MISHRA
5 Min Read
रामानुजगंज (पृथ्वीलाल केशरी)—-  जिला मुख्यालय स्थित बलरामपुर हाईस्कूल मैदान में कुल 280 जोड़ों ने जीवन पर एक दूसरे का साथ निभाने का संकल्प लिया। जोड़ों को विधि विधान से शादी के पवित्र बंधन में बांधा गया। मुख्यमंत्री कन्या सामूहिक विवाह योजना में हिन्दू और ईसाई जोड़ों ने शादी किया। इस अवसर पर प्रदेश की महिला एवं बाल विकास और समाज कल्याण मंत्री अनिला भेड़िया नवविवाहित जो़ड़ों को सौभाग्यवान और सौभाग्यवती का आशीर्वाद भी दिया। 
 
             बलराम हाईस्कूल मैदान में कुल 280 जोड़ों की विधि विधान से शादी के बंधन बंदे। इस दौरान प्रदेश सरकार की कैबिनेट मंत्री अनिला भेड़िया ने नव विवाहित जोड़ों को आशीर्वाद दिया। भेड़िया ने कहा कि आज खुशी का दिन है,। हमें पूरा विश्वास है कि भगवान भी सभी 280 जोड़ों को देख कर खुश होंगे। गर्व की बात है कि इस पूनीत कार्य में सहभागी बनने का अवसर मिला।
 
             मंत्री भेड़िया ने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या सामूहिक विवाह योजना में सभी धर्म समाज के लोग पहुंच रहे हैं। कार्यक्रम भारतीयों के लिए है..किसी धर्म या जाति के लिए नहीं। क्योंकि हमें अच्छी तरह से मालूम हे कि अनेकता में एकता ही हमारी विशेता है। ऐसी विशेषता दुनिया में कही और देखने को नहीं मिलेगी। महिला एवं बाल विकास मंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि हमारे मुखिया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री कन्या विवाह की अनुदान राशि को 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार रूपए कर दिया है। दिव्यांग नवदम्पतियों के लिए अनुदान की राशि 25 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रूपया किया है।
 
               हमे अच्छी तरह से पता है कि प्रदेश में अधिकतर गरीब और मध्यमवर्गीय परिवार के लोग रहते हैं। पालकों को अपने बच्चों की शादी व्याह को लेकर हमेशा चिंता रहती है। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना से विभिन्न वर्गों को लाभ मिला है।
 
             भेड़िया ने नवदम्पतियों से कहा कि आप लोग दो परिवारों को संवारने का काम कर रहे हैं। आपको ससुराल में सास को अपनी मां की तरह सम्मान और प्यार देना है। दुनिया में पति-पत्नी का रिश्ता अटूट और पवित्र होता है। यदि आपस में नोक-झोंक होती भी है तो उसे प्यार और  सामंजस्य के साथ समाधान करना है।
 
                    इस अवसर पर सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं रामानुजगंज विधायक बृहस्पत सिंह संसदीय सचिव, सामरी विधायक चिन्तामणी महाराज जिला पंचायत सभापति गीता सोनहा, कलेक्टर कुन्दन कुमार,पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू, वनमडलाधिकारी विवेकानन्द झा, जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी रीता यादव, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बलरामपुर भरत कौशिक, रामानुजगंज गौतम सिंह, शंकरगढ़ प्रवेश पैंकरा, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग जे.आर.प्रधान, महिला बाल विकास विभाग के अधिकारी-कर्मचारी, गणमान्य नागरिक सहित भारी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।
 
कांग्रेस प्रवक्ता ने लगाया अफसरशाही का आरोप
 
         जिला कांग्रेस कमेटी प्रवक्ता सुनील कुमार सिंह ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार ने प्रदेश वासियों के लिए कई जनकल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया है। दुर्भाग्य की बात है कि बलरामपुर रामानुजगंज जिले में अफसरशाही के चलते योजनाओं का लाभ जनता तक नहीं पहुंच रही है। 
 
              ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष सुनील कुमार ने कहा कि सामूहिक विवाह योजना में न्यौता नही दिया गया। अधिकारियों के इस व्यवहार को लेकर कार्यकर्ताओं में गहरा आक्रोश है।
 
मुख्यमंत्री ने करेंगे शिकायत
 
             जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजेंद्र तिवारी ने कहा कि जिले में होने वाले कार्यक्रम की तिथि पहले से ही निर्धारित है। बावजूद इसके जनप्रतिनिधियों को समय पर जानकारी नहीं दिया जाना अधिकारियों की लापरवाही है। कार्यक्रम को लेकर किसी भी अधिकारी फोन भी नहीं किया। जबकि कलेक्टर से लेकर सारे अवसर जानते हैं।इससे जाहिर होता है कि अधिकारियों ने कांग्रेस नेताओं को जानबूझकर अपमानित किया है। मामले की शिकायत छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष मोहन सिंह मरकाम और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से करेंगे। हमारी माग है कि कलेक्टर जिम्मेदार अधिकारियों को  कारण बताओ नोटिस जारी करें।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close