विधायक पाण्डेय पहुंचे आत्मानन्द स्कूल,बच्चों और माता-पिता से किया आनलाइन संवाद ..बताया..बच्चों के समग्र विकास से जताई खुशी ..हिन्दी माध्यम मल्टीपरपज स्कूल को देंगे नई दिशा

बिलासपुर—नगर विधायक शैलेष पाण्डेय बच्चों की आनलाइन कक्षा का औचक निरीक्षण करने मंगला स्थित आत्मानन्द स्कूल पहुंचे। इस दौरान उन्होने सब्जी बेचने वाले, घर का काम करने वाली मेड, किसान, फुटपाथ पर काम धाम कर जीवन चलाने वाले समेत स्कूल में पढ़ने वाले दिहाड़ियों के बच्चों से आनलाइन संवाद किया। आनलाइन पढ़ाई को लेकर विधायक ने खुशी जाहिर की। पाण्डेय ने कहा कि प्रदेश के मुखिया से मिलकर जल्द ही बिलासपुर में चार नए स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने की मांग करेंगे।
 
                  बिलासपुर विधायक शैलेष पांडेय ने कहा कि 19 फरवरी 2020 को स्कूल शिक्षा विभाग में एक क्रांतिकारक परिवतर्न देखने को मिला। विशेष पहल पर शासन ने एक नवीन योजना को प्रारंभ किया । सरकार ने स्वामी आत्मानंद योजना के तहत प्रदेश के सभी जिलों में एक एक उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल शुरू किया गया। लेकिन न्यायाधनी में प्रथम चरण में 2020-21 से चार नवीन विद्यालय प्रारंभ किये गये। 
 
                             खुशी जाहिर करते हुए विधायक पाण्डेय ने बताया कि चारों विद्यालयों में कुल 2568 विद्याथिर्यों ने प्रवेश लिया। चार विद्यालयों में कुल 121 शिक्षकों कमर्चारियों की प्रतिनियुक्ति पर पदस्थापना की गई।विद्यालयो में कायर्रत अतिरिक्त शिक्षक और विद्याथिर्यों ने निकट की संस्था में स्थानांतरित किया। विद्यालयों को अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त प्रयोगशालाएं खुले मैदान, कम्यूटर लैब, स्मार्ट क्लास के लिए इन्ट्ररेक्टिव्ह बोड, शुद्व पेय जल प्रबंधन, पृथक बालक बालिका शौचालय, उच्च कोटी के पुस्तकों से युक्त ग्रंथालय अंग्रेज़ी माध्यम के निपुण शिक्षकों का प्रबंधन किया गया।
 
आनलाइन की सुविधा
 
                    सीएसआर, डीएमएफ, समग्र शिक्षा और राज्य शासन से 586 लाख रुपये की सामग्री उपलब्ध कराई गयी। अधोसंरचना का विकास किया गया। कोविड महामारी के कारण आनलाईन कक्षाओं और अन्य वचुर्वल गतिविधियों का संचालन किया गया। उत्तम परिणाम के साथ बच्चों ने श्रेष्ठ प्रदर्शन भी किया।
 
अपग्रेड़ का प्रस्ताव
 
                   शनिवार को नगर विधायक शैलेष पांडेय स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल मंगला का निरीक्षण किया। उन्होंने शिक्षा विभाग अधिकारियों को स्कूल में अतिरिक्त कक्ष, शेड, मुख्य सड़क संधारण एवं अधोसंरचना कार्य के लिए प्रस्ताव भेजने का निर्देश दिया।
 
बच्चों से किया संवाद
 
                   स्कूल निरीक्षण के दौरान विधायक शैलेष पांडेय ने ऑनलाइन कक्षा में स्कूली बच्चों से रूबरू हुए। विधायक ने परिजनों से भी स्कूल शिक्षा और व्यवस्था के बारे में जानकारी ली। विधायक ने कहा कि गरीब बच्चों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से स्वामी आत्मानंद स्कूलों का संचालन किया जा रहा है। इस दौरान शैलेष पाण्डेय ने आनलाइन ही स्कूल में पढ़ने वाले सब्जी का व्यापार करने वालों, रिक्शा चालकों, किसान, फुटपाथ विक्रेता, घर में काम करने वाली मेड, समेत सभी गरीबों के बच्चों के साथ संवाद किया। विधायक ने गुणवत्ता युक्त अंग्रेजी माध्यम शिक्षा को लेकर खुशी को जाहिर किया।
 
मल्टीपरपज के लिए विशेष प्रस्ताव
 
             अधिकारियों ने नगर विधायक को बताया कि बिलासपुर में चार नए स्वामी आत्मानंद योजना की तर्ज पर स्कूलों का उन्नयन करने प्रस्ताव भेजे जाएंगे । तिलक नगर, दयालबंद, जरहाभाटा, देवरीखुर्द समेत तोरवा की स्कूल भी शामिल है। गांधी चौक स्थित शासकीय बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक शाला को स्वामी आत्मानंद हिंदी माध्यम स्कूल के तर्ज पर उन्नयन एवं संचालन की स्वीकृति मिल गई है। इसके लिए डीएमएफ मद से 1 करोड़ 75 लाख रुपए की राशि भी जारी कर दी गई है।
 
                 मंगला स्थित आत्मानन्द स्कूल निरीक्षण कार्यक्रम के दौरान विधायक के साथ जिला शिक्षा अधिकारी एसके प्रसाद, स्वामी आत्मानंद योजना नोडल अधिकारी और सहायक संचालक संदीप चोपड़े, सहायक संचालक पी. दासरथी, वरिष्ठ कांग्रेस नेता पंकज सिंह, पार्षद भारत कश्यप, रामा बघेल, श्याम पटेल,  एल्डरमैन शैलेंद्र जयसवाल, काशी रात्रे, अखिलेश गुप्ता बंटी, श्याम लाल चंदानी, सुबोध केसरी, रेहान रजा, सहित संस्था प्राचार्य एवं शिक्षक शिक्षिकाएं उपस्थित थीं।
 
बच्चों के माता पिता से भी किया संवाद
             
                      मंगला स्थित आत्मानन्द स्कूल से शैलेष पाण्डेय ने बच्चों के माता पिता से भी संवाद किया। इस दौरान बच्चों के माता पिता ने स्कूल की पढ़ाई को लेकर संतोष जाहिर किया। बच्चों के पैरेन्स ने बताया कि स्कूल की पढ़़ाई अच्छी होती है। बच्चों को कक्षा का बेसब्री से इंतजार रहता है। बच्चों ने विधायक को बताया कि अंग्रेजी और गणित की स्कूल में पढ़ाई बहुत ही शानदार है। मास्टर अच्छी तरह समझाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *