कल से ज्यादा आज प्रासंगिक..जिला महिला अध्यक्ष ने कहा..भारत ही नहीं ..गांधी को विश्व ने किया आत्मसात

बिलासपुर—-महात्मा गांधी को शहादत दिवस पर जिला महिला कांग्रेस नेत्रियों समेत ब्लॉक कांग्रेस महिला टीम ने याद किया। जगह जगह महिला कांग्रेस टीम ने कार्यक्रम का आयोजन कर बापू के जीवन पर प्रकाश डाला। साथ ही सभी जगह उपस्थित लोगों ने गांधी दर्शन को आत्मसात कर सेवा के राह मे चलने का संकल्प लिया।
 
               राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को जिला महिला कांग्रेस टीम समेत ब्लाक कांग्रेस महिला टीम ने गर्व और नम आखों के साथ याद किया। सकरी ब्लाक में आयोजित कार्यक्रम में महिला कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष माया गंधर्व ने महात्मा गांधी के जीवन पर प्रकाश डाला। 
 
           कार्यक्रम में महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष अनीता लव्हात्रे, जिला महामंत्री पिंकी बत्रा,जिला उपाध्यक्ष  प्रतिमा सहारे ने कहा..गाधी पहले से कहीं ज्यादा आज वैश्विक रूप से प्रासांगिक है। उनके दर्शन को भी भुलाया नहीं जा सकता है। गांधी के पदचिन्हो पर ही चलकर हम सभी प्रकार के  भेदभाव मिटाने में सफल होंगे। गांधी ने जीवन में हमेशा मूल्यों को प्राथमिकता दिया है। आज पूरा विश्व जहां महात्मा गांधी को तेजी से आत्मसात कर रहा है। वहीं भारत में कुछ अतिवादी ताकतों ने गांधी दर्शन को तोड़ मरोड कर भारतीयता को दनकिनार करने से बाज नहीं आ रहे है। हमें मिलकर इसका जवाब ठीक गांधी के अंहिसा वादी चिंतन के साथ देना है। दावा है कि हमें िन अतिवादी ताकतों को खत्म करने में सफलता मिलेगी।
 
               जिला उपाध्यक्ष सुकृता खुटे, तखतपुर की ब्लॉक अध्यक्ष शारदा साहू, सकरी ब्लॉक उपाध्यक्ष कृष्णा शुक्ला,ब्लॉक महामंत्री संगीता तिवारी,लक्ष्मी वस्त्रकार सदस्य,ब्लॉक उपसचिव गायत्री साहू,पूर्व ब्लाक अध्यक्ष सकरी त्रिभुवन साहू,विधायक प्रतिनिधि धर्मेश दुबे, पूर्व पार्षद अमर गुप्ता, समिति अध्यक्ष अजय कौल,गुड्डा यादव, एल्डरमैन सुरेश सोनकर, बादल खुटे  , दिव्या साहू ,मंतराम ध्रुव, चंद्रवती भारद्वाज और स्थानीय लोगों के साथ छोटे-छोटे बच्चे भी कार्यक्रम में शामिल हुए। 
 
                  महिला कांग्रेस जिलाध्यध अनिता लव्हात्रे ने बताया कि सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलकर हीदेश को महात्मा गांधी ने अंग्रेजो की गुलामी से आजाद करवाया। स्वदेशी सामानो को अपना कर महात्मा गांधी ने देश के प्रति आत्मगौरव का पाठ पढ़ाया। विदेशी सामानो का बहिष्कार किया। राष्ट्रपिता ने ना केवल भारत बल्कि पूरी दुनिया को सत्य अंहिसा की राह पर चलना सिखाया।
 
           लव्हात्रे ने कहा कि महात्मा गांधी ने हमेशा किसी कार्य को लडकर, झगडकर हासिल करने की वजाय सत्य और अंहिसा को प्राथमिकता दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *