मेरा बिलासपुर

मां ने बोला..बेटा जल्दी लौटना..I-LOVE-U…अच्छे से रहना..और फिर फांसी पर लटक गयी..सुसाइड नोट में लिखा माफीनामा

पारिवारिक कलह ने किया आत्महत्या को मजबूर

बिलासपुर—मंगला चौक स्थित ठीक 36 मॉल के पीछे सांई विहार कालोनी निवासी महिला ने आत्महत्या कर परिवार को हिला दिया है। खबर मिलते ही सिविल लाइन पुलिस मौके पर पहुंच गयी। शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मर्ग भी कायम किया है। महिला ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है। जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया है। मरने से पहले महिला ने अपने स्कूल गए बच्चे 14 साल के बच्चे को एक वाट्सअप संदेश भी दिया है। जिसकी चर्चा आस पास जमकर हो रही है। 

मंगला चौक स्थित 36 मॉल के ठीक पीछे साँई नगर निवासी बबीता अग्रवाल ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस के अनुसार महिला का नाम बबीता पाठक है। 14 साल पहले पहले मध्यप्रदेश निवासी राजीव अग्रवाल से प्रेम विवाह किया था। सामाजिक प्रताड़ना और पारिवारिक कलह के कारण दोनो बिलासपुर आकर रहने लगे। परिवेष तिवारी ने बताया कि बबीता और राजीव के बीच एक 12 साल का बेटा भी है। बेटा कक्षा सात का छात्र है।

मृतक बबीता का पति राजीव अग्रवाल परिवार का पालन पोषण ई रिक्शा चलाकर करता है। रोज की तरह घटना के दिन यानि 20 जनवरी को ई रिक्शा लेकर कमाने के लिए घर से निकला। बताया जा रहा है कि मृतक परिवार वालों की नाराजगी से काफी तनाव में रहती थी।

पंचनामा के दौरान जानकारी मिली कि बबीता ने हमेशा की तरह बेटे को तैयार कर स्कूल भेजा। और मोबाइल वाट्सअप……..I LOVE YOU का संदेश भेजा। साथ ही अच्छे से रहने के लिए भी लिखा। इसके अलावा बेटे को स्कूल से जल्दी आने के लिए भी लिखा।

डॉ.मधुलिका के घर का कबाड़ बरामद .मामले में पुलिस ने दिखाई गंभीरता.. सीसीटीवी के सहारे पकड़ाया आरोपी

बच्चे ने पुलिस पूछताछ में बताया कि मां के कहने पर स्कूल से जल्दी लौटा। लेकिन उसकी मां स्टोर रूम में फांसी के फंदे पर लटकी मिली। सिविल लाइन थानेदार ने बताया कि महिला ने एक सुसाइड नोट भी लिखकर छोड़ा है। जिसमें परिवार वालों से माफी मांगा है। और घटना के लिए किसी को जिम्मेदार नहीं ठङराया है। बहरहाल पंचनामा कार्रवाई के बाद परिजनों को सूचित कर शव को पोस्टमार्ट के लिए भेजा गया है। मर्ग कायम कर मामले की छानबीन की जा रही है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS