वादों के झूले में झूल गया सहायक शिक्षक फेडरेशन का आंदोलन,अब एक शिक्षक संघ ने किया शिक्षक न्याय आंदोलन का ऐलान

रायपुर।छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन का एक दिवसीय आंदोलन वादों के झूले में झूल गया है । इससे शिक्षक राजनीतिक में हलचल मच गई है। फेडरेशन के समर्थक कुछ शिक्षक बगावती तेवर सोशल मिडिया में पोस्ट कर रहे है। इस बीच नए शिक्षक आंदोलन का आगाज करते हुए नवीन शिक्षक संघ के प्रदेशाध्यक्ष विकास राजपूत ने कहा है कि सात सितम्बर से संघ दुर्ग शिक्षा संभाग से शिक्षक न्याय आंदोलन का आगाज कर रहा है।जो सतत मंजिल प्राप्ति तक जारी रहेगा।विकास राजपूत का कहना है कि नवीन शिक्षक संघ छत्तीसगढ़ वेतन विसंगति दूर करने का फार्मूला शासन-प्रशासन को पूरे तथ्यों के साथ सौप चुका है। जिसकी वजह से लोक शिक्षण संचालनालय रायपुर से सभी सयुंक्त संचालक व जिला शिक्षाधिकारियों के नाम निर्देश जारी कर नियमानुसार वेतन निर्धारण करने कहा है । इस सम्बंध में 7 सितम्बर 2021 से सयुंक्त संचालक शिक्षा संभाग दुर्ग को नवीन शिक्षक संघ द्वारा प्रस्तुत वेतन विसंगति दूर करने के उपाय पर पूरे दस्तावेज के साथ मिलकर वेतन विसंगति दूर करवाने का प्रयास किया जाएगा

विकास राजपूत ने अपील करते हुए बताया कि शिक्षक न्याय आंदोलन को सभी शिक्षक साथी नवीन शिक्षक संघ छत्तीसगढ़ के साथ जुड़कर सहयोग कर वेतन विसंगति को दूर करवाने में साथ कदम से कदम मिलाकर चलेंगे तो शिक्षक न्याय आंदोलन की मंजिल आसान हो जायेगी।संघ के प्रवक्ता प्रवक्ता दुष्यंत कुम्भकार और महिला शिक्षक नेता उमा जाटव का कहना है कि हम शिक्षक में वर्ग भेद नही करते है सहायक शिक्षक सहित सभी शिक्षक संवर्ग के हित मे लगातार संघर्ष जारी रखे हुए है ।

छत्तीसगढ़ पंचायत एवं नगरी निकाय मोर्चा के तले हुए आंदोलन के बाद से हमने हार नही मानी अधूरे संविलियन का विरोध पूर्व शिक्षक नेता चन्द देव राय के साथ मिल कर जम कर किया था। सहायक शिक्षक साथियो सहित सभी शिक्षक संवर्ग नवीन शिक्षक संघ के साथ जुड़कर शिक्षक न्याय आंदोलन को मजबूत करे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *