MP News- मुख्यमंत्री सभी संभागों में जाकर लेंगे समीक्षा बैठक

Shri Mi
12 Min Read

MP News/मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव (Mohan Yadav) प्रदेश में नागरिकों की समस्याओं के निराकरण, सुशासन, विकास कार्यों और जन-कल्याणकारी योजनाओं के मैदानी क्रियान्वयन की संभागवार समीक्षा बैठकें लेंगे। मुख्यमंत्री डॉ. यादव रविवार 17 दिसंबर को प्रात: 10.30 बजे उज्जैन में पहली संभागीय समीक्षा बैठक लेंगे।

बैठक में संभाग के सभी जिलों के प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी और मैदानी अधिकारी शामिल होंगे। बैठक उज्जैन कलेक्ट्रेट कार्यालय के विक्रमादित्य संकुल भवन में होगी।

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव (Mohan Yadav) की दशहरा मैदान से प्रारम्भ हुई स्वागत यात्रा में मुख्यमंत्री का जगह-जगह आत्मीय स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री की स्वागत यात्रा दशहरा मैदान से होते हुए सुराना पैलेस होटल, कंट्रोल रूम तिराहा, वर्षा झोन कॉर्नर से फ्रीगंज गुरूद्वारा होते हुए निखार फैशन की ओर बढ़ी। शहर की विभिन्न मार्गों में लोगों ने कतारबद्ध होकर अपने प्रिय मुख्यमंत्री पर पुष्पों की वर्षा की। छतों से, गैलरी से, स्वागत मंचों से लोगों ने पुष्पों की वर्षा की। शहर में लगभग 300 स्वागत मंच बनाये गये थे।

मुख्यमंत्री (Mohan Yadav) की यात्रा आगे शहीद पार्क सर्कल, टॉवर चौक होते हुए तीन बत्ती चौराहा पहुंची। सभी जगह विभिन्न समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री का आत्मीय अभिनन्दन किया। हर कोई अपने प्रिय मुख्यमंत्री की एक झलक पाने के लिये आतुर नजर आया। जनता अपने प्रिय मुख्यमंत्री को अपने समीप देख आनन्द से आल्हादित हो गई। यात्रा आगे सिंधी कॉलोनी तिराहा से शास्त्री नगर, विवेकानंद कॉलोनी से लोटि स्कूल चौराहा पहुंची।

यात्रा मार्गों पर विभिन्न सामाजिक संस्थाओं, संगठनों, जनप्रतिनिधियों, आम नागरिकों, शहरवासियों ने मुख्यमंत्री डॉ.मोहन यादव का पुष्पहारों से आत्मीय स्वागत किया। रथ सवार होकर मुख्यमंत्री डॉ.यादव जब विभिन्न स्थानों से होकर गुजरे तो लोगों ने मुख्यमंत्री का उत्साह से स्वागत किया। स्वागत यात्रा आगे धन्नालाल की चाल, फ्रीगंज, चामुण्डा माता चौराहा, देवासगेट, मालीपुरा, दौलतगंज, नईसड़क से होते हुए कंठाल चौराहा, सराफा पहुंची।

रथ पर मुख्यमंत्री (Mohan Yadav) के साथ सांसद अनिल फिरोजिया, विधायक अनिल जैन कालूहेड़ा, सतीश मालवीय, आलोट विधायक चिंतामणि मालवीय, महापौर मुकेश टटवाल, पूर्व विधायक श्री पारस जैन, यूडीए अध्यक्ष श्याम बंसल सहित अन्य आदि जनप्रतिनिधि सवार थे।

सम्पूर्ण स्वागत यात्रा के दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष कमला कुंवर, विवेक जोशी, श्री बहादुर सिंह बोरमुंडला, नगर निगम सभापति श्रीमती कलावती यादव,  दिलीप सिंह शेखावत, श्री शान्तिलाल धबाई, राजेन्द्र भारती, श्री बहादुर सिंह चौहान, विशाल राजौरिया, सनवर पटेल, राजपाल सिंह सिसौदिया, श्री जगदीश पांचाल, पूर्व नगर निगम सभापति सोनू गेहलोत, श्री अशोक प्रजापत, श्री वीरेन्द्र कावड़िया, रूप पमनानी, श्री ओम जैन, श्री जगदीश अग्रवाल, श्री शिवेन्द्र तिवारी, श्री हेमन्त व्यास, श्री इकबाल सिंह गांधी, जिला पंचायत सदस्य श्री शोभाराम मालवीय, पार्षद, जनप्रतिनिधि आदि अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि वर्ष 2047 तक भारत विकसित देश होगा। विकसित भारत संकल्प यात्रा का यही उद्देश्य है। हम सभी अच्छा करें और देश को अच्छा बनाये। संकल्प यात्रा के माध्यम से हर झुग्गी-झोपड़ी तक शासन की सभी योजनाओं का लाभ पहुँचे, सब मिलकर ऐसे प्रयास करें। संकल्प यात्रा में जाने वाली मोदी की गारंटी वाली गाड़ी, जनता को हर योजना का लाभ देगी।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने आज मध्यप्रदेश सहित देश के 5 राज्यों में विकसित भारत संकल्प यात्रा का हरी झण्डी दिखाकर वर्चुअली शुभारंभ किया। उज्जैन में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव विशेष रूप से उपस्थित थे। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों से वर्चुअली संवाद भी किया।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि जहाँ दूसरों की उम्मीद खत्म होती है, वहाँ मोदी की गारंटी शुरू होती है। सरकार न केवल हर व्यक्ति को भोजन, स्वास्थ्य, आवास आदि की गारंटी दे रही है, अपितु सामाजिक सुरक्षा भी प्रदान कर रही है। गाँवों के विकास के साथ ही शहरों का भी तेज गति से विकास किया जा रहा है। पहले केवल बड़े शहरों का विकास होता था, अब भारत के टू-टियर और थ्री-टियर शहरों का भी विकास हो रहा है। भारत में 6 करोड़ छोटे शहर हैं।

अमृत मिशन और स्मार्ट सिटी मिशन जैसी योजनाओं के माध्यम से इनका भी समग्र विकास किया जा रहा है। शहरों में जलापूर्ति, ड्रेनेज, सीवेज, सीसीटीवी, स्वच्छता के साथ ही ईज ऑफ लिविंग, ईज ऑफ डूईंग बिजनेस, ईज ऑफ ट्रेवल पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है। प्रधानमंत्री स्व-निधि योजना में शहरों के छोटे व्यवसायियों को सरकार की गारंटी पर व्यवसाय के लिये ऋण दिया जा रहा है, इनमें 45 प्रतिशत महिला हितग्राही हैं। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि कोरोना संकट में सरकार ने 20 करोड़ महिलाओं के खाते में सहायता राशि दी। सभी को मुफ्त में वेक्सीन लगाया गया। नि:शुल्क राशन योजना प्रारंभ की गई।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि सरकार की पेंशन और सुरक्षा योजनाओं से जुड़ें। अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना और प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना का लाभ लें। इन योजनाओं के माध्यम से हितग्राहियों के खाते में 17 हजार करोड़ रूपये पहुँच चुके हैं।

आयुष्मान भारत योजना में अभी तक हितग्राहियों को एक लाख करोड़ रूपये का नि:शुल्क इलाज उपलब्ध कराया जा चुका है। जन औषधि केन्द्रों के माध्यम से 80 प्रतिशत कम कीमत पर दवाएँ उपलब्ध कराई जा रही हैं। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि सरकार गाँव से शहरों में काम के लिये आये व्यक्तियों का पूरा ध्यान रखती है। वन नेशन-वन राशन कार्ड योजना के माध्यम से कहीं भी राशन प्राप्त किया जा सकता है। इन योजनाओं का लाभ लें।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि सरकार हर परिवार के लिये पक्की छत की व्यवस्था कर रही है। आवास योजना में पिछले 9 वर्षों में 4 करोड़ से अधिक घर बनाये जा चुके हैं। किराये का घर योजना के लिये विशेष कॉम्पलेक्स बनाये जा रहे हैं। शहरों में गरीब व मध्यम वर्ग का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम को आधुनिक बनाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि भारत में संकल्प यात्रा को शुरू हुए एक महीना पूरा हो चुका है। अभी तक यह यात्रा हजारों गाँव एवं लगभग डेढ़ हजार शहरों में पहुँच चुकी है। आचार संहिता के कारण 5 राज्यों मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, राजस्थान और मिजोरम में यह यात्रा आज से प्रारंभ हो रही है। इस यात्रा का अपने राज्य में तेजी से विस्तार करें। देश का जन-मन यात्रा को लेकर उत्साहित है। लोग ‘नमो एप’ डाउनलोड कर विकसित भारत के एम्बेसडर बन रहे हैं। प्रश्न-उत्तर प्रतियोगिता के माध्यम से अपनी व दूसरों की जानकारी बढ़ा रहे हैं। संकल्प यात्रा की गाड़ियाँ जनता को हर योजना की जानकारी और लाभ दे रही है।

विकसित भारत संकल्प यात्रा

केन्द्र सरकार द्वारा स्वच्छ मिशन, खाद्य सुरक्षा, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, एलपीजी कनेक्शन, स्वास्थ्य सेवाएँ, उचित पोषण, गरीबों के लिए आवास, वित्त पोषण सेवाएँ और सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का क्रियान्वयन राज्य सरकार की सहभागिता से क्रियान्वयन किया जा रहा है। नागरिकों को विभिन्न लाभों और सुविधाओं के बारे में जागरूकता सुनिश्चित करना एवं समाज के अंतिम व्यक्ति तक योजना की पहुँच को सुगम बनाये जाने के उद्देश्य से “विकसित भारत संकल्प यात्रा” प्रारंभ की गयी है।

यात्रा का स्वरूप

प्रदेश में विकसित भारत संकल्प यात्रा 16 दिसंबर से 26 जनवरी 2024 तक आयोजित की जा रही है। भारत सरकार द्वारा इस यात्रा के लिये सभी जिलों को 366 आईईसी वेन उपलब्ध करायी गयी है। आईईसी वैनों को सभी नगरीय निकाय एवं ग्राम पंचायत में ले जाया जाएगा और कार्यक्रम आयोजित किए जायेंगे।

ग्रामीण क्षेत्रों में आयोजित अभियान में आयुष्मान भारत – PMJAY, पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना, दीनदयाल अंत्योदय योजना राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, पीएम आवास योजना (ग्रामीण), पीएम उज्ज्वला योजना, पीएम विश्वकर्मा योजना, पीएम किसान सम्मान निधि योजना, किसान क्रेडिट कार्ड (KCC), पीएम पोषण अभियान, हर घर जल – जल जीवन मिशन, गांवों का सर्वेक्षण और ग्रामीण क्षेत्रों में तात्कालिक प्रौद्योगिकी के साथ मानचित्रण (स्वामित्व), जनधन योजना, जीवन ज्योति बीमा योजना, सुरक्षा बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, पीएम प्रणाम योजना, नैनो उर्वरक का उपयोग, स्वाइल हैल्थ कार्ड और उन्नत कृषि यंत्र शामिल है।

शहरी क्षेत्रों में आयोजित अभियान में पीएम स्वनिधि योजना, पीएम विश्वकर्मा योजना, पीएम उज्ज्वला योजना, पीएम मुद्रा लोन योजना, स्टार्टअप इंडिया, स्टैंडअप इंडिया, आयुष्मान भारत – PMJAY, पीएम आवास योजना (शहरी), वंदे भारत ट्रेनें और अमृत भारत स्टेशन योजना, स्वच्छ भारत अभियान (शहरी), उजाला योजना, अमृत योजना, पीएम जन औषधि परियोजना, सौभाग्य योजना, डिजिटल भुगतान अधोसंरचना, खेलो इंडिया और आरसीएस: उड़ान योजना शामिल है।

वेन के साथ ही एग्री ड्रोन को भी प्रदर्शित किया जायेगा। उल्लेखनीय है कि किसानों की सुविधा के लिये उक्त ड्रोन का निर्माण किया गया है। किसानों के समय की बचत और उनके स्वास्थ्य की रक्षा करने के लिये एग्री ड्रोन का निर्माण किया गया है। ड्रोन के इस्तेमाल से खेतों में खाद या दवा का छिड़काव कम समय में किया जा सकेगा। साथ ही एक एकड़ फसल में खाद या अन्य कीटनाशकों का छिड़काव लगभग 15 मिनिट में किया जा सकेगा। कृषि क्षेत्र में ड्रोन के प्रयोग से रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। इसका अनुमानित मूल्य लगभग पांच लाख रुपये से 10 लाख रुपये के मध्य है।

मध्यप्रदेश शासन के कृषि कल्याण एवं विकास विभाग द्वारा किसानों को उक्त ड्रोन क्रय करने में अनुदान दिया जायेगा। साथ ही ड्रोन ऑपरेट करने के लिये निर्माणकर्ता कंपनी के अधिकारियों द्वारा प्रशिक्षण भी दिया जायेगा।

आई.ई.सी. वेन के कार्यक्रम स्थल पर पहुँचने पर माननीय प्रधानमंत्री जी का संदेश, संकल्प-वीडियो विकसित भारत का प्रदर्शन, फिल्म का प्रदर्शन, “मेरी कहानी मेरी जुबानी” लाभार्थियों की व्यक्तिगत कहानियों का उल्लेख- अनुभव साझा किया जायेगा। तकनीकी सत्र में- ड्रोन प्रदर्शन, प्राकृतिक खेती, स्वाइल हेल्थ कार्ड, उन्नत तकनीक आदि की जानकारी दी जायेगी। सांस्कृतिक कार्यक्रम “धरती कहे पुकार के” स्वच्छता गीत, सेल्फ हेल्प ग्रुप/एफ.पी.ओ./ स्कूल छात्र/ स्थानीय कलाकरों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम किये जायेगे। सम्मान एवं हितग्राही लाभ वितरण-विशेष उपलब्ध प्राप्त करने वाले महिला एवं पुरूष का सम्मान/योजनांतर्गत हितग्राहियों को लाभ वितरण किया जायेगा।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close