महिला अध्यक्ष को हटाने की मांग..पार्षदों ने बताया पंचायत प्रमुख विकास विरोधी..3 साल से विकास काम ठप

IMG-20171214-WA0041बिलासपुर— सकरी नगर पंचायत पार्षदों तीन चौथाई की संख्या में एक होकर जिला प्रशासन से अध्यक्ष को पद से हटाए जाने की मांग की है। पार्षदों ने जिला प्रशासन को बताया कि अध्यक्ष चंपा दशरथ पनिक सकरी नगर पंचायत विकास कार्य में सबसे बड़ी बाधा है। जन और नगरहित कार्यों में उनका कोई सरोकार नहीं है। जनहित को ध्यान में रखते हुए चंपा दशरथ पनिक को अधिनियम 1961 की धारा 47 के तहत कार्य से मुक्त किया जाए।

             सकरी नगर पंचायत के  तीन चौथाई पार्षद जिला कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर चंपा दशरथ पनिक को अध्यक्ष पद से हटाने की मांग की है। पार्षदों ने लिखित में जिला प्रशासन को बताया कि चंपा पनिक को जनहित को लेकर गंभीर नहीं हैं। विकास कार्यों के प्रति लगाव भी नहीं हैं।

                पार्षदों ने एसडीएम पैकरा को बताया कि चंपा पिछले तीन साल से अध्यक्ष हैं। उन्होने आज तक ना तो जनहित का कोई कार्य किया और ना ही नगर विकास को लेकर कभी गंभीरता ही दिखाई दी। चंपा पनिक का जनता से भी व्यवहार ठीक नहीं है। छोटी छोटी शिकायतों का भी निराकरण नहीं करती हैं। जनता को एक ही काम के लिए महिला दर साल से चक्कर लगाना पड़ रहा है।

                       पार्षदों ने बताया कि सकरी नगर पंचायत से हम तीन चौथाई पार्षद चाहते हैं कि चंपा पनिक हो हटाया जाए। जिला प्रशासन अधिनियम 1961 की धारा 47 के तहत अध्यक्ष को वापस बुलाया जाए। साथ ही सकरी नगर पंचायत में शासकीय राशि की जमकर लूट खसोट हो रही है। मामले की जांंच भी कराई जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *