इंडिया वाल

लॉरेंस बिश्नोई के नाम से मांगी 20 लाख की रंगदारी, पकड़ा गया तो बताई ये कहानी

गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के नाम से विदेशी नंबर से एक वकील से रंगदारी मांगने और न देने पर हत्या करने की धमकी देने वाला आरोपी को गाजियाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक, आरोपी एक शातिर बदमाश कपिल चौधरी है. उसके परिवारजनों पर कई मुकदमे भी दर्ज हैं. जिसके लिए उसे पैसे चाहिए थे और उसने यूट्यूब से वर्चुअल नंबर बनाना सीखा. जिसका उसने धमकी देने के लिए इस्तेमाल किया.

मामला साहिबाबाद थाना क्षेत्र का है. पुलिस के मुताबिक, गाजियाबाद कोर्ट में प्रैक्टिस करने वाले एडवोकेट गौरव पाल को दो दिसंबर को विदेशी वर्चुअल नंबर से एक धमकी मिली. वाट्सऐप पर नंबर के साथ लॉरेंस बिश्नोई की प्रोफाइल फोटो लगी थी. अनजान नंबर से आए मैसेज पर धमकाया गया कि अगर 20 लाख रुपए नहीं दिए गए, तो वकील कोर्ट नहीं जा पाएगा. बिना देरी किए एडवोकेट गौरव पाल साहिबाबाद थाने पहुंचे और मुकदमा दर्ज कराया.

…तो इसलिए लिया बिश्नोई के नाम का सहारा
पुलिस ने साइबर टीम की मदद से नंबर को सर्विलांस पर लगाया और कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए आरोपी कपिल चौधरी निवासी पिलखुवा तक पहुंची. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ में उसने बताया कि उसको पैसे की जरूरत थी, इसीलिए उसने यूट्यूब पर वर्चुअल नंबर बनाना सीखा और फिर एडवोकेट को धमकी दी. आरोपी ने यह भी बताया कि आजकल लॉरेंस बिश्नोई का मामला सुर्खियों पर छाया हुआ है. इसलिए उसकी फोटो और उसके नाम का सहारा लिया था, जिससे उसपर कोई शक न आए.आपको बता दें कि कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई(30) राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की कस्टडी में है. सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में लॉरेंस बिश्नोई की भूमिका की जांच को लेकर राष्ट्रीय जांच एजेंसी लगातार पूछताछ करने में लगी है. दिल्ली की अदालत ने भी आरोपी बिश्नोई की 10 दिन की पुलिस हिरासत जांच एजेंसी को दे दी है. लॉरेंस बिश्नोई पर करीब 45 से ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज हैं. सूत्रों के मुताबिक, सिर्फ पंजाब में ही बिश्नोई पर 17 केस दर्ज हैं. बिश्नोई के गिरोह में 500 से ज्यादा शॉर्प शूटर हैं, जो देशभर में फैले हैं. जांच एजेंसी आरोपी बिश्नोई से पूछताछ कर हर परत को खोलने में लगी है.

ममता के चहेते आईपीएस के खिलाफ लुकऑउट नोटिस, सीबीआई कभी भी कर सकती है गिरफ्तार
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS