हेडक्वार्टर में नही रहती पटवारी,ग्रामीणों की शिकायत पर पटवारी के कामों की तत्काल जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने कलेक्टर ने दिए निर्देश

राजनांदगांव। कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने विकासखंड डोंगरगढ़ के ग्राम मोतीपुर के गौठान का निरीक्षण किया। कलेक्टर श्री सिन्हा ने गौठान में स्वसहायता समूह की महिलाओं से चर्चा कर गोबर क्रय, वर्मी कम्पोस्ट निर्माण, विक्रय और राशि भुगतान की जानकारी ली। महिलाओं ने बताया कि 63 क्ंिवटल वर्मी कम्पोस्ट का उत्पादन किया गया है। इसमें 45 क्ंिवटल वर्मी कम्पोस्ट का विक्रय हो चुका है। महिलाओं ने बताया कि समूह द्वारा बाड़ी में विभिन्न प्रकार के सब्जी की खेती की जा रही है। बाड़ी से सब्जी का विक्रय करके 12 हजार रूपए लाभ मिला है। वहीं 70-80 किलो प्याज का उत्पादन भी किया जा चुका है।

सीईओ जनपद पंचायत डोंगरगढ़ श्री लक्ष्मण कचलाम ने बताया कि 7 एकड़ में चारागाह तैयार किया गया है जिसमें नेपियर घास लगाया जाएगा। उद्यानिकी विभाग के सहयोग से गौठानों में फूलों की खेती के लिए कार्य करेंगे।कलेक्टर श्री सिन्हा ने अधिकारियों से कहा कि गौठानों में मल्टीएक्टीविटी कार्य प्रारंभ करें। अधिकारी स्वयं इसमें रूचि लेते हुए महिलाओं की आय बढ़ाने के लिए कार्यों का चयन कर प्रारंभ कराएं। दीपावली आते ही गोबर के दीपक, गमले तथा अन्य कार्य प्रारंभ करें। उन्होंने कहा कि गौठान में पानी, शेड, तार फेसिंग सभी कार्य किया गया है। इस गौठान में समूह के लिए अन्य गतिविधियों को भी  प्राथमिकता से प्रारंभ कराएं।

कलेक्टर श्री सिन्हा ने वहां गाय चराने आए चरवाहे से बातचीत की। चरवाहे ने गौठान के गोबर का विक्रय उनके द्वारा नहीं किया जाना बताया, जिससे वे लाभ से वंचित है। कलेक्टर ने कहा कि गौठान का गोबर चरवाहे का है, जिसका लाभ उन्हें मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि गौठान का गोबर विक्रय कर राशि प्राप्त करें। गौठान में चारे की व्यवस्था के लिए बड़े किसानों को पैरादान के लिए प्रेरित करें।

कलेक्टर ने गौठान निरीक्षण के दौरान ग्रामवासियों से चर्चा की। मोतीपुर निवासी श्री चुम्मन लाल ने बताया कि खसरा में त्रुटि होने के कारण उन्हें ऋण नहीं मिल रहा है और पटवारी इस कार्य में देरी कर रहे हैं। साथ ही पटवारी मुख्यालय में निवास नहीं करती है। कलेक्टर श्री सिन्हा ने इस शिकायत पर तत्काल जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने पटवारी को निर्देश दिए कि वे मुख्यालय में ही रहे और गांव के लोगों का कार्य में समय-सीमा में ईमानदारीपूर्वक करें। ऐसी शिकायत मिलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *