कार्यभार ग्रहण करने के बाद शिक्षा मंत्री ने ली पहली बैठक,स्कूलों में एलुमिनाई मीट शुरू करने की योजना

जयपुर। शिक्षा मंत्री डॉ बी डी कल्ला की अध्यक्षता में बुधवार को शिक्षा संकुल में शिक्षा विभाग की बैठक आयोजित की गई। शिक्षा मंत्री ने बजट एवं जन घोषणाओं को उचित कार्ययोजना तैयार कर प्राथमिकता से पूर्ण करने पर जोर दिया। साथ ही डॉ कल्ला ने विद्यालयों में संचालित विद्यालय प्रबंधन समिति/विद्यालय विकास प्रबंधन समिति को मजबूत करने के निर्देश दिए। डॉ कल्ला ने बच्चों के सर्वांगीण विकास हेतु सहशैक्षणिक गतिविधियों के आयोजन हेतु अधिकारियों को निर्देशित किया व कोविड गाइडलाइंस की अनुपालना करते हुए विद्यालयों में एलुमिनाई मीट शुरू करने की योजना तैयार करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्री के रूप में उनके कार्यकाल में बालिका शिक्षा पर विशेष रूप से ध्यान दिया जाएगा व माननीय मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की बजट घोषणा के अनुसार आगामी वर्षों में प्रदेश के सभी 5000 की आबादी वाले गांव और कस्बों में महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने के लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में तेजी से कार्य किया जाएगा।

बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव पवन कुमार गोयल ने शिक्षा मंत्री को राजकीय महात्मा गांधी अंग्रेज़ी माध्यम में विद्यालयों में शुरू हो रही पूर्व प्राथमिक कक्षाओं के पाठ्यक्रम निर्माण के संबंध में जानकारी दी। माध्यमिक शिक्षा निदेशक श्री कानाराम ने डॉ कल्ला को विभाग में चल रही विभिन्न योजनाओं के बारे में अवगत करवाया। बैठक में पावर पॉइंट प्रस्तुतीकरण के माध्यम से कोरोना काल में बच्चों की शिक्षा अनवरत रूप से ज़ारी रखने के लिए किए गए शैक्षिक नवाचारों , विभाग की विभिन्न उपलब्धियों तथा वर्तमान में संचालित योजनाओं के बारे में शिक्षा मंत्री को विस्तार से अवगत कराया गया।

डॉ कल्ला के शिक्षा मंत्री के रूप में कार्यभार ग्रहण के बाद आयोजित इस पहली बैठक में शिक्षा राज्यमंत्री जाहिदा खान, शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पवन कुमार गोयल, समग्र शिक्षा के राज्य परियोजना निदेशक डॉ भंवर लाल, माध्यमिक शिक्षा निदेशक श्री कानाराम सहित विभाग के सभी आला अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *