मेरा बिलासपुर

पूर्व CM के BJP से इस्तीफे की वजह

गोवा।गोवा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को बड़ा झटका लगा है. पार्टी के सदस्य और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री लक्ष्मीकांत पारसेकर ने शनिवार को बीजेपी से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने कहा, मैं वर्षों तक भाजपा का सदस्य रहा लेकिन पार्टी ने मुझे हल्के में लिया. मैंने खुद को पार्टी से अलग करने की तैयारी कर ली है और स्वतंत्र रूप से चुनाव लड़ने का फैसला किया है. मैं एक दो दिनों में इस घोषणा के साथ सामने आऊंगा. उन्होंने समाचार कहा, “मैं शनिवार शाम को औपचारिक रूप से पार्टी को अपना इस्तीफा सौंप दूंगा. लक्ष्मीकांत पारसेकर 2014-2017 के बीच गोवा के मुख्यमंत्री थे. तत्कालीन मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को रक्षा मंत्री के रूप में केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने के बाद उन्हें राज्य का नेतृत्व करने के लिए चुना गया था. 

कोर कमेटी के सदस्य 
पारसेकर अगले महीने होने वाले गोवा विधानसभा चुनावों के लिए भाजपा के घोषणापत्र के प्रमुख हैं. वह पार्टी की कोर कमेटी के सदस्य भी हैं. आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने उनका टिकट काट दिया है. उनका फैसला पार्टी द्वारा मौजूदा विधायक दयानंद रघुनाथ सोप्ते को मंड्रेम निर्वाचन क्षेत्र से मैदान में उतारने के बाद आया है. यह पारसेकर की घरेलू सीट रही है. 

गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री तीन दशकों से पार्टी से जुड़े रहे हैं. इससे पहले बीजेपी ने गोवा के एक अन्य पूर्व सीएम मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर का टिकट काट दिया था. इसके बाद उन्होंने निर्दलीय मैदान में उतरने का फैसला लिया है. 

पारसेकर ने कहा कि सोप्ते के लिए मंड्रेम निर्वाचन क्षेत्र के मूल भाजपा कार्यकर्ताओं में नाराजगी है क्योंकि वह उनकी अनदेखी कर रहे हैं. 2017 के गोवा विधानसभा चुनाव में सोप्ते ने कांग्रेस के टिकट पर पारसेकर को हराया था. हालांकि 2019 में वह नौ अन्य लोगों के साथ भाजपा में शामिल हो गए. 

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS