इन कर्मचारियों को तोहफा, हर महीने 150 रुपए जोखिम भत्ता, सम्मान निधि भी मिलेगी

भोपाल।सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज 5 मार्च 2022 को अपने जन्मदिन के मौके पर बड़ा ऐलान किया है। सीएम शिवराज सभी सफाई कर्मियों के लिए 150 रुपए प्रतिमाह जोखिम भत्ता और शहर के #GFC_Star_Rating में सफल होने पर प्राप्त होने वाली स्टार रेटिंग के अनुसार सम्मान राशि भी प्रदान किए जाने की घोषणा की।सफाई मित्रों को दिए भोज को भी जीरो वेस्ट सिद्धांत के तौर पर किया जाए।स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में कचरा मुक्त शहर के लिए स्टार रेटिंग के आधार पर सफाई मित्रों को प्रोत्साहन दिया जाएगा।

दरअसल, आज सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज अपने जन्मदिन के मौके पर भोपाल के MVM कॉलेज ग्राउंड में कन्या पूजन किया और सफाई मित्र सेवा सम्मान कार्यक्रम में पहुंचे और सफाई कर्मचारियों के पैर धोकर सम्मान किया।इस मौके पर बड़ा ऐलान करते हुए उन्होंने कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में कचरा मुक्त शहर के लिए स्टार रेटिंग के आधार पर सफाई मित्रों को प्रोत्साहन दिया जाएगा। इसके लिए चार पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। साथ ही सफाई मित्र को प्रतिमाह 150 रूपए का जोखिम भत्ता भी दिया जाएगा। पुरस्कारों के लिए 25 करोड़ रूपए की राशि का प्रावधान होगा।

उन्होंने आगे कहा कि स्वक्छता सर्वेक्षण में सफाई मित्रो को रैंकिंग के हिसाब से सम्मान निधि मिलेगी। 7 स्टार को 7 हजार, 5 स्टार को 5 हजार, 3 स्टार को 3 हजार, 1 स्टार को 1 हजार की सम्मान निधि मिलेंगी । जोखिम का काम करने वालो को 150 रुपए का भत्ता भी दिया जाएगा। सफाई मित्रों का अपने कार्य के प्रति समर्पण और उनका सेवा भाव प्रशंसनीय है। स्वच्छता सर्वेक्षण में 7 स्टार वालों को सात हजार और 5 स्टार वालों को 5000 की सम्मान निधि दी जायेगी। सफाई मित्र अपने शहर को 7 स्टार या 5 स्टार दिलवाने का प्रयास करें।

सीएम शिवराज ने कहा कि कहा कि सफाई करने वालों को भी विशेष भत्ता दिया जाएगा।सफाई कर्मी, सफाई मित्र हैं और अब से ये सफाई मित्र के नाम से ही पहचाने जाएंगे।  यह सभी सफाईकर्मियों का सम्मान है। यह अकेले उनका सम्मान नहीं है। ऐसा वर्ग जो पूरे कचरे का बोझ उठाता है, शहर को स्वच्छ रखने का काम करता है, पीएम नरेंद्र मोदी भी उनका ऐसे ही सम्मान करते हैं।  यह कर्मकांड नहीं है। यदि मैंने पैर धोए और पोंछे हैं तो यह हृदय से सम्मान है। इसके बाद उन्होंने सफाईकर्मियों को भोजन भी परोसा।

सीएम शिवराज ने ये भी किए ऐलान- स्टार रेटिंग पर मिलेंगे 1000 से 7000

  •  प्रदेश में स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में कचरा मुक्त शहर के सफाई मित्रों को स्टार रेटिंग के आधार पर पुरस्कार राशि दी जाएगी।
  • इन पुरस्कारों में एक स्टार प्राप्त करने वाले शहरों के प्रत्येक सफाई मित्र को एक हजार रूपए, तीन स्टार प्राप्त करने वाले शहरों के प्रत्येक सफाई मित्र को तीन हजार, पाँच स्टार प्राप्त करने वाले शहरों के प्रत्येक सफाई मित्र को पाँच हजार रूपए और सात स्टार प्राप्त करने वाले शहरों के प्रत्येक सफाई मित्र को सात हजार रूपए की पुरस्कार राशि दी जाएगी।
  • सफाई मित्रों के लिए प्रतिवर्ष 12 करोड़ रूपए की राशि जोखिम भत्ते पर व्यय होगी।
  •  प्रत्येक सफाई मित्र अपने शहर को 5 स्टार या 7 स्टार दिलवाने का प्रयास करें। नागरिक भी सहयोग करें।
  • नगरीय क्षेत्रों में कचरे के प्रबंधन के लिए गारबेज फ्री सिटी की अवधारणा पर वर्ष 2020 से स्वच्छ भारत में अमल किया जा रहा है।
  • इसके लिए नगरों के मूल्यांकन मानदंड निर्धारित हैं। इसमें कचरे के प्रबंधन के स्तर के अनुसार 1, 3, 5 और 7 स्टार की रैंक नगरीय निकायों को प्रदान की जाती है।
  • इसमें घर से निकलने वाले कचरे का संग्रहण, परिवहन, प्र-संस्करण और वैज्ञानिक ढंग से निपटान को प्रमुख आधार बनाया गया है।
  • इसके अलावा व्यावसायिक और आवासीय इलाकों में प्रतिदिन झाडू़ लगाने, नगरीय क्षेत्रों के जल संरचनाओं की सफाई, उद्यानों के विकास और निर्माण का परीक्षण किया जाता है। प्रदेश में इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर, जबलपुर, भोपाल, रीवा और सागर में विभिन्न तरह के 61 हजार 142 सफाई मित्र कार्य कर रहे हैं।
  • खुले में शौच की समस्या से मुक्त होकर स्वच्छता के अभियान को आगे बढ़ाते हुए ओडीएफ प्लस और ओडीएफ प्लस प्लस के साथ ही वॉटर प्लस के मानदंड भी तय किए गए हैं।
  • वॉटर प्लस प्राप्त करने के लिए निकायों को प्रदान किए गए जल प्रदाय को 100 प्रतिशत उपचारित कर 25 प्रतिशत पुन: उपयोग सुनिश्चित करना होता है।
  • कार्यक्रम में बताया गया कि निकायों द्वारा जीरो वेस्ट सिद्धांत पर कचरा उत्सर्जन का कार्य किया जा रहा है। आज एमवीएम ग्राउंड पर हुए इस कार्यक्रम में भोजन के बाद अविलंब तत्काल गीला और सूखा कचरा एकत्र कर उसका आवश्यक प्रबंधन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *