लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, 96 हजार रुपये की रिश्वत लेते RTO विभाग के UDC और दो अन्य कर्मचारी गिरफ्तार

Jabalpur Lokayukta Raid : मध्य प्रदेश में रिश्वतखोरी (Bribe) पर लगाम नहीं लग पा रही है। लोकायुक्त लगातार रिश्वतखोरों के खिलाफ कार्यवाही कर रही है। आज फिर लोकायुक्त की जबलपुर टीम ने रिश्वत लेते आरटीओ विभाग में पदस्थ UDC सहित दो अन्य कर्मचारियों को भी गिरफ्तार किया है।जानकारी के अनुसार, कटनी आरटीओ विभाग में UDC के पद पर पदस्थ जितेंद्र सिंह बघेल सहित दो अन्य कर्मचारी को लोकायुक्त पुलिस जबलपुर की टीम ने 96 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।

लोकायुक्त पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, फरियादी शैलेंद्र द्विवेदी कटनी के निवासी है जो ट्रैक्टर एजेंसी व कमर्शियल ऑटो के आरटीओ कार्य के लिए अधिकृत है इनके द्वारा आरटीओ कार्यलय में ऑटो के 16 और ट्रैक्टर के 46 नए रजिस्ट्रेशन के लिए फाइल जमा किये गये थे। जो काफी समय से नवीनीकरण नहीं हो रहे थे। फिर उन्होंने जितेंद्र सिंह बघेल से मुलाकात की यह आरटीओ विभाग में UDC के पद पर पदस्थ है। इन्होने नवीन रजिस्ट्रेशन के एवज में 96 हजार रुपये की घूस मांगी गई थी। जिसकी शिकायत जबलपुर लोकायुक्त से की गई थी।आज जबलपुर लोकायुक्त पुलिस की टीम ने ट्रैप की कार्रवाई करते हुए जितेंद्र सिंह बघेल और कर्मचारी सुखेंद्र तिवारी, रावेन्द्र सिंह को 96 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ लिया है। तीनों के विरुद्ध भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *