बाहर से आए पुलिस के 4 जवान संक्रमित,कलेक्टर ने जिले की सीमा, रेलवे स्टेशन में कड़ाई बढ़ाने कहा

राजनांदगांव। कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने जिले में कोविड-19 संक्रमण से सुरक्षा के लिए सतर्कता और स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता की जानकारी के लिए अधिकारियों की बैठक ली। कलेक्टर श्री सिन्हा ने कहा कि बाहर से आए पुलिस के 4 जवानों के कोविड-19 पॉजिटिव मिलने पर अधिक सतर्क होने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जिले में बाहर से आने वाले सभी नागरिकों पर कड़ी निगरानी रखी जाए। जिले की सीमा तथा रेलवे स्टेशन में कड़ाई बढ़ाते हुए सभी यात्रियों का कोविड-19 सैम्पलिंग लिया जाए। शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में बाहर से आने वाले व्यक्तियों की जानकारी रखें और अनिवार्य रूप से सैम्पलिंग लें।

आंगनबाड़ी, मितानिन की टीम सक्रियता से कार्य करते हुए इसकी जानकारी रखें। इसके लिए गांव में मुनादी कराई जाए। उन्होंने नगर निगम क्षेत्र में कोविड-19 सैम्पलिंग और वैक्सीनेशन बढ़ाने के निर्देश दिए।कलेक्टर श्री सिन्हा ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण से बचने के लिए पांच उपाय टेस्टींग, कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग, ट्रीटमेंट, वैक्सीनेशन और एप्रोप्रिएट बिहेवियर का पालन करना जरूरी है। कोविड-19 से बचने के लिए अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। लोगों को अधिक से अधिक कोरोना संक्रमण से सुरक्षा के प्रति जागरूक करें। उन्होंने कहा कि सभी नागरिक अनिवार्य रूप से मास्क लगाएं। नगर निगम व पुलिस विभाग को निर्देश दिए कि मास्क नहीं लगाने वाले और कोरोना प्रोटोकाल का पालन नहीं करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करें। कलेक्टर श्री सिन्हा ने जिले के नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि कोविड-19 संक्रमण से बचने के लिए एप्रोप्रिएट बिहेवियर, मास्क लगाना, सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना और हाथों को समय-समय पर सेनेटाईज करते रहें।

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण एक कारगर उपाय है। शत-प्रतिशत नागरिक टीकाकरण केन्द्र में जाकर टीका जरूर लगवाएं। इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती प्रज्ञा मेश्राम, नगर निगम आयुक्त आशुतोष चतुर्वेदी, संयुक्त कलेक्टर वीरेन्द्र सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, एसडीएम राजनांदगांव मुकेश रावटे, डीपीएम गिरीश कुर्रे, ई-जिला प्रबंधक सौरभ शर्मा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.