पैसेंजर ट्रेन का इंजन और एक बोगी जंगल में पटरी से उतरी, पायलट की सूझबूझ से टला हादसा

दंतेवाड़ा-दंतेवाडा जिले में नेरली और बचेली के बीच जंगल में नक्सलियों ने करीब 40 फीट ऊंचे ब्रिज पर रेल पटरी को क्षतिग्रस्त कर देने से विशाखापट्टनम से किरंदुल जा रही पैसेंजर ट्रेन का इंजन और एक बोगी पटरी से उतर गई।रेलवे सूत्रों ने आज बताया कि प्रतिदिन विशाखापत्तनम से किरंदुल के बीच चलने वाली पेसेंजर ट्रेन कल शाम जगदलपुर से किरंदुल के लिये रवाना हुई। ट्रेन लगभग 7ः30 बजे नेरली और बचेली के बीच जंगल में पहुँची, तो ट्रेन पायलट को लगा की पटरी में कुछ गड़बड़ है और उन्होंने ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोकने का प्रयास किया। फिर भी ट्रेन एक इंजन और बोगी पटरी से उतर गई। लेकिन ट्रेन पुल से नीचे 40 फीट खाई में नहीं गिरी और एक बड़ा हादसा टल गया। घटना के समय ट्रेन में 35 यात्री और 4 क्रू मेंबर सवार थे। इसके बाद रात में ही सभी बोगियों को दूसरे इंजन के माध्यम से निकटतम स्टेशन से खींच कर ले जाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *