तिमाही परीक्षा रद्द: अब सभी स्कूल पुरानी पद्धति से लेंगे परीक्षाएं

रायपुर। तिमाही परीक्षा के लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा तैयार किया गया प्रश्न पत्र लीक होने के बाद अब परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं। अब स्कूल अपने स्तर पर परीक्षाएं ले सकेंगे। स्कूलों को अपने स्तर पर परीक्षाएं आयोजित करने की छूट दी गई है। माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा तैयार प्रश्न पत्र के आधार पर परीक्षा रद्द करने का निर्णय लिया गया है।इस संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव व माध्यमिक शिक्षा मंडल के अध्यक्ष डॉ. आलोक शुक्ला ने सभी डीईओ के लिए संदेश जारी किया है। उन्होने लिखा कि”अत्यंत खेद का विषय है कि अनेक न्यूज चैनलों पर यह खबर चल रही है कि तिमाही परीक्षा का पेपर लीक हो गया है। कुछ वीडियो भी लीक पेपर बता कर यूट्यूब पर चल रहे हैं।

तिमाही परीक्षा का पेपर केंद्रीकृत रूप से न आज तक बना है और न ही केंद्रीकृत बनाने की कोई आवश्यकता है।सभी DEO तत्काल सभी स्कूलों को सूचित करें कि यदि उन्हें कोई केंद्रीकृत पेपर तिमाही परीक्षा के लिए प्राप्त हुआ भी है तो उसका उपयोग कदापि न किया जाए।

आप सभी को निर्देशित किया जाता है कि तिमाही परीक्षा के लिए पेपर सेटिंग स्कूल स्तर पर ही किया जाएगा। किसी केंद्रीकृत पेपर का उपयोग नही किया जाएगा। तिमाही परीक्षा का टाइम टेबल भी केंद्रीकृत नही होगा। टाइम टेबल भी स्कूल स्तर पर ही निर्धारित किया जाएगा परंतु यह ध्यान रखा जाएगा कि सभी स्कूलों में तिमाही परीक्षा अनिवार्य रूप से 10 अक्टूबर तक पूर्ण कर ली जाए। ऐसा करने से स्कूल स्तर पर पेपर सेटिंग के लिए पर्याप्त समय मिल जाएगा।

पेपर छपवाने की आवश्यकता नहीं है। पेपर को चाक से ब्लैक बोर्ड पर लिखा जाएगा जैसा पूर्व में किया जाता रहा है। उत्तर पुस्तिका भी छपवाने की आवश्यकता नही है। विद्यार्थी उत्तर अपनी विषय की कॉपी में लिखेंगे और स्कूल के शिक्षक कॉपी जांचकर विद्यार्थियों को देंगे।तिमाही परीक्षा का उद्देश्य पास या फेल करना नहीं है, बल्कि वार्षिक परीक्षा की अच्छी तैयारी कराना है।

इस बात का ध्यान विशेष रूप से रखें कि जो पेपर सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है उसका उपयोग कदापि न करें।सभी DEO सभी स्कूलों को तत्काल सूचित कर के इस ग्रुपमें भी मेसेज डालें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *