मेरा बिलासपुर

घर ना जमीन..और 40 लाख की धोखाधड़ी…कुख्यात बिल्डर बागड़िया गिरफ्तार..ओडिशा पुलिस को भी तलाश

बिलासपुर—पुलिस ने धोखाधड़ी और जालसाजी मामले में रियल स्टेट कारोबारी को गिरफ्तार किया है। आरोपी का नाम आरएस बागड़िया है। सिविल लाइन पुलिस के अनुसार धोखाधड़ी मामले में राजश्री कंस्ट्रक्शन डाय़रेक्टर आरएस बागड़िया पर अलग अलग थाना और जिला में दस से अधिक अपराध दर्ज है। बागड़िया ओडिशा पुलिस का वारंटी बदमाश है।
 
                        सिविल लाइन पुलिस के अनुसार प्रार्थी अक्षत शर्मा में धोखाधड़ी मामले को लेकर राजश्री कंस्ट्रक्शन डायरेक्टर आरएस बागड़िया के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करायाङ प्रार्थी ने बताया कि आरोपी बागड़िया का कार्यालय व्यापार विहार स्थित ग्वालान चैम्बर में है। आरोपी ने षड़यंत्र पूर्वक दूसरे की जमीन को अपना बताया। और निर्धारित कीमत पर मकान बनाकर देने का वादा किया।लेकिन आरोपी ने ना तो मकान बनाकर दिया। और ना ही रूपया ही वापस किया। जिसके चलते उसे आर्थिक हानि का सामना करना पड़ा है। 
 
               अक्षत शर्मा ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि तहसील कार्यालय में लिखापढ़ी के दौरान आरएस बागड़िया से जमीन का सौदा किया। जमीन का खसरा नम्बर 412/21 है।  बतायी गयी करीब 1705 वर्ग फिट जमीन अजय अग्रवाल के नाप पर है। बागड़िया ने उस जमीन पर डोमजिला मकान बनाकर देने का वादा किया।  इसके लिए 60 लाख रूपए का सौदा भी हुआ। 
 
                 अक्षत ने बताया कि सौदा पक्का होने के बाद बागड़िया को 16 जुलाई 2021 को नकद 12 लाख रूपया दिया। दोनों के बीच स्टाम्प पर लिखा पढ़ी भी हुई।  इसके बाद 22 जुलाई को 13 लाख और 26 जुलाई को 5 लाख रूपए आरटीजीएस से दिया।
 
              26 जुलाई को ही  5 लाख रपयों का चेक भी दिया। 14 अगस्त 2021 को 5 लाख रूपए आरटीजीएस से भुगतान किया। इस तरह कुल  कुल 40 लाख रुपये का भुगतान विभिन्न माध्यमों से डायरेक्तर बाग़ड़िया को दिया। लेकिन ना तो अभी तक ना तो जमीन की मरजिस्ट्री हुई है। और ना ही मकान का निर्माण ही किया गया। मामले में बागड़िया लगातार टालमटोल कर रहा है।
 
              सिविल लाइन थानेदार परिवेष तिवारी ने बताया कि रिपोर्ट को गंभीरता से लेते हुए विवेचना की कार्रवाई शुरू हुई। जांच पतड़ाल के दौरान जानकारी मिली कि आरोपी बागड़िया धोखाधड़ी का मंझा खिलाड़ी है। धोखाधड़ी के कई मामलों में जेल की हवा भी खा चुका है। अब तक करीब 25 से अधिक लोगों को धोखाधखी का शिकार बना चुका है। कुल दस से अधिक मामलों मेंं आरएस बागड़िया के खिलाफ बिलासपुर रायगढ़ समेत कई थानों में अपराध दर्ज है। ओडिशा पुलिस को भी आरएस बागड़िया की तलाश है। 
 
                     परिवेश तिवारी ने बताया कि बागड़िया के खिलाफ सिविल लाइन थाने से तीन बार चालान काटा गया है। 

असली के सामने नहीं चली...झाड़ रहा था पुलिसिया रौब...केन्द्रीय जेल का बना मेहमान...फर्जी आईडी, वर्दी और मोटरसायकल बरामद
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS