कोरोना वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट नहीं, CMHO डॉ गोटा ने भी लगवाई कोरोना वैक्सीन

नारायणपुर। जिला अस्पताल नारायणपुर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एआर गोटा ने भी आज कोरोना का टीका लगवाया। डॉ गोटा ने टीका लगने और आधा घण्टा ऑब्जर्वेशन में बिताने के बाद वापस अस्पताल कार्य पर आ गए और कहा कि  कोरोना वेक्सीन आने का उन्हें इंतजार था। एक डाक्टर होने के नाते वेक्सीन के बनने से लेकर ट्रायल तक उन्होंने काफी कुछ जानकारी हासिल कर रखी थी। उन्होंने बताया कि वे जानते थे कि कोरोना की वेक्सीन के कोई साइड इफेक्ट नहीं है। वे पहले दिन ही वेक्सीन लगवाना चाहते थे । डॉ गोटा ने कहा कि न तो वेक्सीन लगाते समय और न ही बाद में यहां तक की अब तक उन्हें कोई तकलीफ नहीं हुई।

टीके का किसी तरह का कोई रिएक्शन भी सामने नहीं आया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ गोटा ने कहा कि कोरोना का टीका लगाने सभी लोगों को आगे आना चाहिये। ये टीका पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने लोगों से किसी तरह के भ्रम या अफवाह में न आने की अपील भी की है।     जिले मे कोरोना की दस्तक के साथ ही डॉ गोटा अपनी टीम के साथ लगातार बिना रूके कोरोना मरीजों के इलाज में जिला अस्पताल के अन्य चिकित्सकों और स्टाफ के साथ जुटे रहे।

उन्होंने बताया कि कोरोना मरीजों की सेवा करने और उनके ठीक होकर घर जाने पर उन्हे, मरीजों के परिजनों के बराबर ही खुशी होती थी। डॉ गोटा ने कहा कि कोरोना काल के दौरान उन्होने कोई अवकाश नहीं लिया तथा त्यौहारों में भी वे ड्यूटी करते रहे ताकि मरीज स्वस्थ हो सकें, इसी से उन्हे अत्यंत खुशी मिलती है।      विशेषज्ञों का कहना है कि वैक्सीन लगाने के बाद भी सभी को कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन करना, मास्क लगाना, दो गज की दूरी रखना और हाथों की सफाई का ध्यान रखना होगा और वे रख भी रहे हैं।

चिकित्सकों के अनुसार वैक्सीन की दूसरी डोज के 14 दिन के बाद ही शरीर में प्रतिरक्षात्मक तंत्र विकसित होता है। विशेषज्ञ अभी भी इसीलिए कह रहे हैं कि संक्रमण कम होने का अर्थ यह नही है कि यह और नही फैल सकता। सबको सचेत रहने की जरूरत है, तभी कोरोना के संक्रमण से बच सकते हैं। प्रदेश में कोरोना वैैक्सीनेशन मंगलवार, शुक्रवार और रविवार को छोड़कर बाकी सभी दिन प्रातः 9 बजे से शाम  5 बजे तक पूर्व निर्धारित स्थलों पर होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *