जनपद CEO और ऑक्सीजन प्लांट की धीमी प्रगति पर एजेंसी को नोटिस जारी

Notice, कोरोना, MP News, Notice to the teacher Collector took stock of the school,Notice in case of Rs 66 crore,Show cause notice issued to Tehsildar,Notice to 19 teachers who are missing,surajpur,news,chhattisgarh,hindi news,cg news,दौरे ,कमिश्नर , गड़बड़ियां, तहसीलदार , जनपद लिपिक, कारण बताओ नोटिस,कलेक्टर, आश्रम,छात्रावास , स्कूलों ,अचानक निरीक्षण , पांडातराई ,हायर सेकेडरी स्कूल,पांच शिक्षक, अनुपस्थित ,छात्रावास अधीक्षक , शो कॉज नोटिस ,जारी , निर्देश,Chhattisgarh, वेतन देयक, प्रस्तुत , ट्रेजरी अफसर ,थमाया ,कारण बताओ, नोटिस,kanker,chhattisgarh,jashpur nagar,news,चार अधिकारियों , कारण बताओ, नोटिस,लोकसेवा गारंटी , कोताही, मामला,डाईट, 08 अधिकारी-कर्मचारी,गैरहाजिर,कलेक्टर, शो-कॉज नोटिस जारी,छात्रावास अधीक्षक,शो कॉज नोटिस,मतदान अधिकारियों,प्रशिक्षण,लोकसभा चुनाव,अनुपस्थित,,नोटिस जारी,chhattisgarh,गैरहाज़िर ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक,मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्य अधिकारी कोण्डागांव,kondagaon,chhattisgarh news,hindi news
Join WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

जशपुरनगर/कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल ने आज जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक लेकर विभागीय योजना की समीक्षा की जल जीवन मिशन की समीक्षा करते हुए सभी जनपद सीईओं से विकासखण्डवार प्रगति की जानकारी ली। दूरस्थ अंचल के चिन्हांकित आश्रम-छात्रावास, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, आंगनबाड़ी केन्द्रों और पंचायत भवनों तक टेप नल की माध्यम से पेयजल की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कहा है।

उन्होंने कहा कि इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं चलगी। समीक्षा के दौरान कुनकुरी जनपद सीईओ से जल जीवन मिशन की जानकारी और धीमी प्रगति पर नाराजगी जाहिर करते हुए कारण बताओं नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि शासन की प्राथमिकता वाली योजनाओं में शामिल हैं।

उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी को स्कूलों के नवीन स्वीकृत भवन, स्कूलों के मरम्मत कार्य के लिए प्रस्ताव बनाकर भेजने के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य अधिकारी से टीकाकरण की प्रगति की जानकारी लेते हुए धीमी प्रगति पर टीकाकरण अधिकारी के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए जिले में महाअभियान चलाकर शत-प्रतिशत टीकाकरण करवाए।

इसके लिए सभी एसडीएम को अपने-अपने ब्लॉक में बैठक लेकर रात्रि चौपाल लगाकर लोगों को टीकाकरण के लिए जागरूक करने के निर्देश दिए हैं साथ ही अपने क्षेत्र में भ्रमण करके टीकाकरण में प्रगति लाने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सरपंच, सचिव, मितानीनों को भी लक्ष्य निर्धारित करके दें ताकि प्रगति दिखे। जनपद सीईओं को अपने विकाखण्ड के ग्राम पंचायतों को शत्प्रतिशत टीकाकरण गांव बनाने के लिए कहा गया है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को हाट बाजार क्लीन के माध्यम से बेहतर ईलाज करने के निर्देश दिए हैं उन्होंने कहा कि दूरस्थ अंचलों में हाट बाजार क्लीन लगाकर ग्रामीणजनों को ईलाज करें। ग्रामीणों क्षेत्रों में यह योजना लोगों के लिए बहुत ही कारगर है दूरस्थ अंचल के लोग हाट बाजार आते हैं वहां पर उनका ईलाज भी हो जाता है। उन्होंने राजस्व अधिकारियों नजूल भूमि का प्रकरण बनाकर प्रस्तुत करने के लिए कहा है।

रेतमाफियों के खिलाफ कलेक्टर का फरमान
READ

धान खरीदी की तैयारी की समीक्षा करते हुए उन्होंने सभी एसडीएम को बारदाने का उठाव करवा करके सोसायटी में जमा करवाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि धान खरीदी के लिए बहुत कम समय बच्चा हैं उचित मूल्य दुकानों से बारदाने को उठाव करवा करके जमा करवाना सुनिश्चित करें।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना की समीक्षा करते हुए उन्होंने किसानों के पंजीयन की स्थिति की जानकारी ली और एसडीएम को रैंडम जांच करने के निर्देश दिए है। ताकि पात्रता के आधार पर किसानों को योजनाओं लाभ दिया जा सके। उन्होंने कांसाबेल के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र और जिला अस्पताल में लगाए जा रहें ऑक्सीजन प्लांट की भी जानकारी ली और निर्माण की धीमी प्रगति पर नाराजगी जाहिर करते हुए निर्माण एजेंसी को कारण बताओं नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा कि जिला स्तर पर सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को गौठान का नोडल अधिकारी बनाया गया है सभी नोडल अधिकारी अपने-अपने गौठान का नियमित निरीक्षण करेंगे साथ ही अपने क्षेत्र के लोगों की मूलभूत आवश्यकताओं की जानकारी लेकर प्रशासन को अवगत कराएंगे, ताकि लोगों की समस्याओं का प्राथमिकता से निराकरण किया जा सके।नोडल अधिकारी निरीक्षण के दौरान अपने क्षेत्र के आश्रम-छात्रावास, गौठान, स्वास्थ्य केन्द्र का भी अवलोकन करके नियमित जानकारी लेते रहेंगे साथ ही स्कूलों में शिक्षकों की उपस्थिति, आश्रम-छात्रावासों में अधीक्षकों की उपस्थित, स्वास्थ्य केन्द्र में डॉक्टरों और अन्य कर्मचारियों की नियमित उपस्थिति की जानकारी लेने के निर्देश दिए हैं।