मेरा बिलासपुर

अब सुप्रीम कोर्ट वकील ने भी किया विरोध…सुदीप की सलाह…बृहस्पति बाजार में मल्टी लेवल शापिंग से नई समस्याएं होंगी पैदा

बिलासपुर—पेशे से सुप्रीम कोर्ट के वकील और समाजसेवी,एक्टिविस्ट सुदीप श्रीवास्तव ने भी बृहस्पति बाज़ार में मल्टी लेवल शॉपिंग काम्प्लेक्स बनाने का विरोध किया है। उन्होने बताया कि मल्टी लेवल शापिंग काम्पलेक्स बनने से ट्रैफिक की समस्या बढ़ेगी। इसके अलावा शासन प्रशासन और लोगों को कई प्रकार की समस्याओं से जूझना पड़ेगा। बिलासपुर में अब तक कई ऐसे निर्माण कार्य हुए हैं..जिसका परिणाम अच्छा नहीं आया। और शासन को पश्चाताप भी करना पड़ा है।बेहतर होगा कि निगम प्रशासन इस योजना को लेकर ठण्डे दिमाग से सोचे।

Join Our WhatsApp Group Join Now

सुप्रीम कोर्ट के जाने माने वकील सुदीप श्रीवास्तव ने कहा कि बृहस्पति बाजार को विस्थापित कर मल्टी लेवल शापिंग काम्पलेक्स बनाने का विचार शासन का गलत निर्णय साबित होगा। क्षेत्र में सड़क की चौड़ाई मात्र 49 फिट है। ऊपर दुकाने बनाने के बजाय भूमिगत पार्किंग और ग्राउंड फ्लोर पर सब्जी वालो को जगह देना उचित होगा।

 हमर राज पार्टी नेता सुदीप ने जिला प्रशासन के बृहस्पति बाज़ार में मल्टी लेवल शॉपिंग काम्प्लेक्स बममे की योजना पर सवाल कई सवाल उठाए। उन्होने कहा कि ऐसा करने से इलाके में ट्रैफिक जाम की समस्या बढ़ेगी । नागरिको को भारी परेशानी होगी। किसी बड़े हादसे की स्थिति में प्रशासन को बहुत बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। उन्होने जोर देकर कहा कि वर्तमान समय में सब्जी वाले ना केवल बाज़ार में बल्कि चारों और बैठ कर रोजी रोटी कमा रहे हैं। बृहस्पति बाजार घोषित निगम की सब्जी मण्डी है। वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखकर लोगों को पता है सब्जी मण्डी की परेशानियों से उनका दो चार होना स्वभाविक। लेकिन शापिंग काम्पलेक्स बनते ही जो नई परेशानी पैदा होगी। उसका सामना करना मुश्किल हो जाएगा। इसलिए भूमिगत पार्किंग और ग्राउंड फ्लोर पर सब्जी वालो को जगह देना उचित होगा।

सुदीप श्रीवास्तव ने आगे बताया कि बृहस्पति बाजार नगर निगम की संपत्ति है। उसमे फेरबदल किया जा सकता है। एक प्रस्ताव सामान्य सभा और एमआईसी में लाया जाए। इसके बाद योजना में परिवर्तन किया जाए। चूंकि निर्माण डीएमऍफ़ फण्ड से होना है। इसलिए शासन को अधिक से अधिक जन सुविधा का ध्यान रखना होगा।

Back to top button
close