मध्यप्रदेश

Nursing Scam: नर्सिंग घोटाले के दोषी अधिकारी सेवा से बर्खास्त किये जाएंगे

Nursing Scam।मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने नर्सिंग कॉलेजों में हुई अनियमितताओं पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिये हैं। उनके निर्देश पर मेडिकल एजुकेशन विभाग ने सुधार के लिये रोडमैप तैयार किया है। उन्होंने कहा है कि नर्सिंग घोटाले के दोषी अधिकारियों को सेवा से बर्खास्त किया जायेगा।

Join Our WhatsApp Group Join Now

आधिकारिक जानकारी में डॉ यादव ने कहा कि मेडिकल एजुकेशन विभाग ने विभागीय स्तर से बड़े पैमाने पर ऑपरेशन शुरू कर दिया है। उन्होंने बताया कि ग्वालियर में दोषी पाये गये कर्मचारियों के विरुद्ध सेवा से बर्खास्त करने की कार्रवाई अंतिम चरण में है।

प्रदेश में नर्सिंग कॉलेजों में फर्जीवाड़ा और इसके बाद सीबीआई जांच में गड़बड़ी सामने आने के बाद प्रदेश सरकार सख्त हो गई है। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के निर्देश के बाद नर्सिंग पाठ्यक्रमों पर नियंत्रण के लिए रेगुलेटरी बॉडी का गठन किया जाएगा।

यह बॉर्डी सभी नए नर्सिंग कॉलेजों की मान्यता प्रक्रिया के लिए मानक अनुरूप बनाने पर काम करेगी ताकि सभी नए कॉलेजों को मानदंडों के मुताबिक मान्यता मिले। यह भी ध्यान रखा जाएगा कि नर्सिंग कॉलेजों पर कार्रवाई नियम-कानून के दायरे में हो। इसके अलावा नर्सिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों की तर्ज पर प्रवेश परीक्षाएं होंगी। मप्र में जीएनटीएसटी/पीएनएसटी (एंट्रेंस टेस्ट) होते रहे हैं, पर 2023 में जो परीक्षा हुई, उसका रिजल्ट अब तक घोषित नहीं किया गया है। अब जुलाई 2024 में टेस्ट प्रस्तावित है।

इधर, फर्जीवाड़े में दोषी कर्मचारियों की लिस्टिंग शुरू कर दी गई है। एक हफ्ते में लिस्ट तैयार कर दोषियों पर कार्रवाई होगी। नर्सिंग काउंसिल के तत्कालीन सचिव रजिस्ट्रार पर कार्रवाई होगी।

                   

Shri Mi

पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
Back to top button
close