Old Cooler: कूलर के कम हवा देने के कई कारण हो सकते

Old Cooler: गर्मी के मौसम में राहत पाने के लिए लोग कूलर का इस्तेमाल करते हैं। गर्मी से राहत पाने के लिए लोग अक्सर नया कूलर खरीदना शुरू कर देते हैं। घर में नया कूलर आते ही ताजी हवा तो देता है, लेकिन समय बीतने के साथ उड़ने लगता है। उसकी हवा कम होने लगती है. कूलर द्वारा कम हवा देने के कई कारण हो सकते ।

अगर आपने भी नया कूलर खरीदा है और अब वह कम हवा दे रहा है तो घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहे हैं जिससे आपका पुराना कूलर नए जैसी हवा देने लगेगा। इसके लिए आपको बस कूलर में एक छोटी सी मशीन फिट करनी होगी। इस मशीन को कूलर से कनेक्ट करते ही यह तेज हवा देना शुरू कर देगा।

कूलर का वायु प्रवाह उसके पंखे में लगे कंडेनसर पर निर्भर करता है। अगर पंखे के कंडेनसर में खराबी आ जाए तो कूलर से हवा का प्रवाह कम हो जाता है। आमतौर पर कंडेनसर खराब होने के कारण कूलर में हवा का प्रवाह कम होता है।

ऐसे में अगर आपका कूलर कम हवा दे रहा है तो आप उसका कंडेनसर बदल सकते हैं। कंडेनसर बदलते ही आपका कूलर तेजी से हवा देने लगेगा। आपको बता दें कि कंडेनसर को आप खुद ही फिट कर सकते हैं। इसके लिए आपको किसी मैकेनिक की जरूरत नहीं पड़ेगी।

मूल्य कितना है?

कंडेनसर आप किसी भी इलेक्ट्रॉनिक दुकान से खरीद सकते हैं। इसके अलावा इसे ऑनलाइन भी खरीदा जा सकता है. आमतौर पर कंडेनसर की कीमत 100 रुपये से लेकर 500 रुपये तक होती है.

Join Our WhatsApp Group Join Now

कूलर को धूल से बचाएं

कूलर चलने के कारण कभी-कभी उसके पंखों पर धूल और गंदगी जमा हो जाती है। इससे पंखे पर अत्यधिक भार पड़ता है और कंडेनसर खराब हो जाता है। इसलिए जरूरी है कि आप अपने कूलर पंखे को समय-समय पर साफ करते रहें।

कंडेनसर की जांच करते रहें

कूलरों में पानी का उपयोग किया जाता है। इससे कई बार कंडेनसर खराब हो जाता है और कूलर पंखा काम करना बंद कर देता है। अगर आप चाहते हैं कि आपका पंखा ठीक से काम करता रहे तो इसके लिए आपको समय-समय पर पंखे के कंडेनसर की जांच करनी होगी।

                   

Shri Mi

पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
Back to top button
close