पुरानी पेंशन,राजस्थान सरकार का निर्णायक फैसला,छग सहायक शिक्षक फेडरेशन ने छग सरकार से की यह मांग

रायपुर –छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने राजस्थान के पुराने पेंशन बहाली के निर्णय का स्वागत किया है और राजस्थान के कर्मचारियों को इसके लिए बधाई दी है।साथ ही साथ राजस्थान सरकार को धन्यवाद ज्ञापित किया है। और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मांग करता है कि तत्काल छत्तीसगढ़ में भी पुरानी पेंशन बहाल किया जाए क्योंकि राजस्थान राज्य से छत्तीसगढ़ राज्य ज्यादा संपन्न राज्य है। इसको लागू करने में ज्यादा दिक्कत नहीं आएगी।क्योंकि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है और छत्तीसगढ़ में भी कांग्रेस सरकार है इसलिए पुरानी पेंशन बहाल करने में कोई दिक्कत नहीं आनी चाहिए और पुरानी पेंशन बहाल कर देनी चाहिए।

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन शुरू से ही पुरानी पेंशन बहाली के पक्ष में रहा है। नया पेंशन स्कीम किसी भी तरह से कर्मचारी हित में उचित नहीं है और कर्मचारी हित के खिलाफ है।पुरानी पेंशन स्कीम कर्मचारियों के हित में बहुत ही अच्छा स्कीम था, जिसमें कर्मचारी का भविष्य सुरक्षित रहता था।कर्मचारी ने जो जीवन भर सरकार को अपनी सेवाएं दी हैं,उसका उचित प्रतिफल कर्मचारियों को प्राप्त होता था, किंतु वर्तमान नई पेंशन स्कीम शेयर बाजार पर आधारित है, जो कि सर्वथा गलत है

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन के समस्त पदाधिकारियों ने मांग की है कि जिस प्रकार से राजस्थान में पुरानी पेंशन को लागू किया गया है, उसी प्रकार से माननीय मुख्यमंत्री महोदय श्री भूपेश बघेल जी पुरानी पेंशन को छत्तीसगढ़ में भी लागू करें। हम सभी कर्मचारी आभारी रहेंगे और उनका यह निर्णय निश्चित ही मील का पत्थर साबित होगा।माननीय मुख्यमंत्री जी सदैव कर्मचारियों के दिल में रहेंगे, जब भी पुरानी पेंशन की बात होगी तो माननीय मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया जाएगा।

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रांतीय पदाधिकारी शिव मिश्रा सुखनंदन यादव अजय गुप्ता सी.डी. भट् सिराज बक्स बलराम यादव बसंत कौशिक कौशल अवस्थी रंजीत बनर्जी अश्वनी कुर्रे रवि प्रकाश लोह सिंह विकास मानिकपुरी हुलेश चन्द्राकर उमा पांडे आदित्य गौरव साहू छोटे लाल साहू चंद्र प्रकाश तिवारी आदित्य गौरव साहू राजकुमार यादव श्रीमती खिलेश्वरी शांडिल्य शेषनाथ पांडे सुरेंद्र प्रजापति राजू लाल टंडन मिलेश्वर देशमुख बसंत कुमार यादव संजय प्रधान राजाराम पटेल मनोज अंबष्ट शैलेश गुप्ता बीपी मेश्राम एलन साहू यादवेंद्र गजेंद्र श्रीमती दुर्गा वर्मा श्रीमती राजकुमारी भगत श्रीमती रीता भगत श्रीमती गायत्री साहू श्रीमती शांति उके श्रीमती जयंती उसेंडी श्रीमती शकुंतला साहू राजू यादव नोहर चंद्रा राजेश प्रधान श्रीमती बनमोती भोई तरुण वैष्णव श्रीमती सुमन प्रधान जलज थवाईत संतराम साहू श्रीमती आशा कोरी श्रीमती इंदु यादव श्रीमती आशा पांडेय उत्तम बघेल गोवर्धन शारके छवि पटेल संजय प्रधान श्रीमती अनीता दुबे श्रीमती लक्ष्मी बघेल बसंत कुमार यादव योगेंद्र ठाकुर केसरी पैकरा सत्यनारायण यादव श्रीमती नीलिमा कन्नौजे भूपेश पाणीग्रही, अजय साहू, श्रीमती प्रभा साहू,श्रीमती दीप्ति बिसेन, श्रीमती सरोज वर्मा, श्रीमती गरिमा शर्मा, श्रीमती चमेली ध्रुव संकीर्तन नंद, हेमेंद्र चंद्रहास, राजवीर किरार, संत कुमार साहू, श्रीमती विनीता साहू, श्रीमती जयंती उसेंडी, श्रीमती पूर्णिमा पांडे और हजारों की संख्या में महिला शिक्षिकाएं यह मांग करता है कि छत्तीसगढ़ में भी पुरानी पेंशन लागू हो उपरोक्त जानकारी प्रदेश मीडिया प्रभारी राजू टंडन द्वारा जारी प्रेस नोट में दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *