जागरूकता शिविर का हुआ आयोजन,आम आदमी का एक मत बदल देता हैं सरकार- न्यायधीश चंद्राकर

रामानुजगंज(पृथ्वीलाल केशरी) द्वितीय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश रामानुजगंज मधुसूदन चन्द्राकर द्वारा शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल रामानुजगंज में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। विद्यालयीन छात्रों को मतदान के अधिकार एवं महत्व के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया। आयोजित विधिक साक्षरता शिविर में न्यायाधीश ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में राष्ट्रीय मतदाता दिवस प्रत्येक वर्ष 25 जनवरी को मनाया जाता है। विश्व में भारत जैसे सबसे बड़े लोकतंत्र में मतदान को लेकर कम होते रूझान को देखते हुए राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है।

यह दिवस भारत के प्रत्येक नागरिक के लिए अहम है। उन्होंने कहा कि इस दिन भारत के प्रत्येक नागरिक को अपने राष्ट्र के प्रत्येक चुनाव में भागीदारी की शपथ लेनी चाहिए, क्योंकि भारत के प्रत्येक व्यक्ति का वोट की देश के भावी भविष्य की नींव रखता है, इसलिए हर एक व्यक्ति का वोट राष्ट्र के निर्माण में भागीदार बनता है। राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन भारत के सभी नागरिकों को अपने राष्ट्र के प्रति कर्तव्य की याद दिलाता है। भारत के प्रत्येक नागरिक को मतदान प्रक्रिया में भाग लेना जरूरी है क्योंकि आम आदमी का एक मत भी सरकार बदल देता है, इसलिए प्रत्येक नागरिक को अपने मत का प्रयोग सोच समझकर करना चाहिए और ऐसी सरकार या प्रतिनिधि चुनना चाहिए जो देश को विकास और तरक्की पर ले जा सके।

न्यायाधीश श्री चन्द्राकर ने मूल अधिकार के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह देश में लोकतांत्रिक व्यवस्था स्थापित करते हैं तथा देश में विधि शासन की व्यवस्था करते हैं व सामाजिक समानता एवं सामाजिक न्याय की आधारशिला रखते हैं। ये अल्पसंख्यक एवं समाज के कमजोर वर्गों के हितों की रक्षा करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *