मेरा बिलासपुर

उत्कृष्ट परीक्षा परिणाम हेतु जिले के व्याख्याताओं का ऑनलाइन उन्मुखीकरण संपन्न

जशपुर नगर।ज़िला कलेक्टर डॉ रवि मित्तल के मार्गदर्शन और जिला शिक्षा अधिकारी, जशपुर एवं यशस्वी जशपुर के नोडल विनोद गुप्ता के नेतृत्व में जिले के शासकीय हाई स्कूल एवं हायर सेकेंडरी स्कूलों में बोर्ड परीक्षा में शत प्रतिशत परीक्षा परिणाम लाने तथा जेईई एवं नीट जैसे प्रतियोगी परीक्षाओं में शत प्रतिशत विज्ञान संकाय के बच्चों को आवेदन भरवाने हेतु जिले के हाई एवम हायर सेकेंडरी विद्यालयों के लगभग दो हजार व्याख्याताओं का विषय वार ऑनलाइन उन्मुखीकरण संपन्न हुआ।

यह ऑनलाइन उन्मुखीकरण यशस्वी जशपुर के संजय दास तथा जिले के विभिन्न विषयों के पचास कुशल प्रशिक्षकों के द्वारा संपन्न कराया गया। सोमवार से शुक्रवार प्रति दिवस प्रातः 10:30 से दोपहर 12:00 बजे तक विषयवार एवम तिथिवार जिला मुख्यालय के स्वान स्टूडियो से स्त्रोत प्रशिक्षक जिले के सभी विकासखंडों के स्वान स्टूडियो में तथा वेबैक्स लिंक से जुड़े व्याख्याताओं का उन्मुखीकरण करते थे।

18 नवंबर से 15 दिसंबर तक कुल 20 दिवस चलने वाले उन्मुखीकरण को तीन चरणों में विभाजित करके शिक्षकों का उन्मुखीकरण किया गया। प्रथम चरण में जेईई एवं नीट प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी हेतु उन्मुखीकरण किया गया तथा दूसरे एवम तीसरे चरण में क्रमशः हाई और हायर सेकंडरी के बोर्ड परीक्षाओं में उत्कृष्ट परीक्षा परिणाम हेतु उन्मुखीकरण किया गया।

जेईई एवं नीट परीक्षा के संबंध में विनोद गुप्ता ने शिक्षकों एवम प्राचार्यों से कहा कि अधिक से अधिक विद्यार्थी इस परीक्षा में सम्मिलित हों। उन्होंने बताया कि बोर्ड परीक्षा के पश्चात जेईई एवं नीट परीक्षा में सम्मिलित होने वाले जिले के विद्यार्थियों का संकल्प शिक्षण संस्थान, जशपुर में एक महीने का निःशुल्क क्रैश कोर्स कराया जाएगा। जेईई एवं नीट परीक्षा के तैयारी के संबंध में स्त्रोत प्रशिक्षकों ने बताया कि बोर्ड परीक्षा की तैयारी एवम जेईई तथा नीट परीक्षा की तैयारी में अंतर होता है।

मोटरसायकल चोर गिरोह पर बड़ी कार्रवाई..2 नाबालिग समेत 3 चोर गिरफ्तार...7 बाइक जब्त...खरीदारों पर भी गिरी गाज

उन्होंने कहा कि जेईई एवं नीट की तैयारी हेतु एन.सी.ई.आर.टी. की पुस्तकों को पढ़ना सर्वोत्तम होता है। उपरोक्त परीक्षा की तैयारी हेतु कुछ संदर्भ पुस्तकों एवम लेखकों का उल्लेख करने के साथ उन्होंने ऐसे पाठ्यक्रमों एवम योजनाओं पर भी चर्चा की जिससे बच्चे आसानी से जेईई एवं नीट में सफल हो सकते हैं।बोर्ड परीक्षाओं के तैयारी के संबंध में जिले के स्त्रोत प्रशिक्षकों ने बताया कि शिक्षक एवम बच्चे प्रारंभ से ही माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा जारी ब्लूप्रिंट के आधार पर तैयारी करें तो जिले का परीक्षा परिणाम शत प्रतिशत होगा।

विभिन्न विषय के सभी स्त्रोत प्रशिक्षक ब्लूप्रिंट के आधार पर इकाई वार शिक्षकों से महत्वपूर्ण प्रश्नों पर चर्चा किए तथा अध्ययन अध्यापन में होने वाले उनके समस्याओं का समाधान भी किया। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के पश्चात हाई स्कूल स्तर पर कम अच्छे बच्चों की संख्या में उत्तरोत्तर वृद्धि हुई है। ऐसे विद्यार्थी को परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए आवश्यक रणनीति पर वृहद चर्चा हुई। जिले के सभी बच्चों के अच्छे परीक्षा परिणाम के शुभकामनाओं के साथ शिक्षकों का ऑनलाइन उन्मुखीकरण समाप्त किया गया।कार्यक्रम के सफल आयोजन में यशस्वी जशपुर के संजीव शर्मा , अवनीश पांडेय का महत्वपूर्ण योगदान रहा ।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS