संभागायुक्त का आदेश..सिम्स परिसर से मंदिर हटाएं ..नहीं खरीदेंगे RTPCR मशीन.कहा..एक महीने में दूर करें सिवरेज की समस्या..लगाएं तड़ित चालक

BHASKAR MISHRA
4 Min Read
यह भी पढ़े
बिलासपुर—-छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान स्वशासी समिति की बैठक बैठक की अध्यक्षता कर रहे संभागायुक्त डाॅ. संजय अलंग ने संबोधित किया। बैठक में सिम्स मेडिकल काॅलेज और अस्पताल के सुचारू संचालन के लिए कई निर्णय लिए गये। संभागायुक्त ने सिम्स में सीवरेज की समस्या के स्थायी निदान को लेकर चर्चा की। पीडब्लूडी और नगर निगम को निर्देश दिया कि एक माह के भीतर समस्या का निराकरण कर सूचित करेंगे। 
 
अटल बिहारी विश्वविद्यालय से अनुबंध
 
         संभागायुक्त कार्यालय में आयोजित बैठक में संभागायुक्त डॉ.अलंग ने पिछली बैठक के दौरान पेश किए गए प्रतिवेदन पर चर्चा हुई। इस दौरान डीन ने बताया कि  सिम्स भवन मरम्मत के लिए 25 करोड़ की राशि का प्रस्ताव बजट में शामिल किए जाने के लिए भेजा गया है।  सिम्स के नव प्रवेश छात्रो को आधार पाठ्यक्रम जैसे स्थानीय भाषा, कम्प्यूटर, खेल कूद का अध्यापन कराने के लिए अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय बिलासपुर से अनुबंध हुआ है।  सिम्स चिकित्सालय में मैक्नाईज्ड सेन्ट्रल लाॅण्ड्री वाशिंग मशीन के लिए एसईसीएल से राशि स्वीकृत हुई है। सर्जिकल विभाग में एसईसीएल के सहयोग से लिफ्ट लगाया जाएगा।
 
कई सामान खरीदी का फैसला
 
          बैठक के दौरान डॉ. अलंग ने  सिम्स परिसर स्थित मंदिर को अन्यं जगह शिफ्टिंग का निर्देश  नगर निगम को दिया।  साथ ही चिकित्सालय के वार्षिक स्वशासी बजट के कार्यो की अद्यतन स्थिति की जानकारी भी दी गयी। चिकित्सालय में रेन वाटर हार्वेस्टिंग, फ्लोर क्लीनिंग मशीन, हाईप्रेशर वाॅसर, मेडिकल रिकार्ड विभाग में सर्वर एवं इनर्वटर स्थापना, आपातकालीन चिकित्सा विभाग समेत अन्य शाखाओं के लिए कम्प्यूटर सेट, चिकित्सालय के रक्त कोष, बर्न, केजुअल्टी के अलावा वार्डो में ए.सी. स्थापना, आपातकालीन चिकित्सा वार्ड में मल्टीपैरा माॅनिटर स्थापना की जानकारी को संभागायुक्त ने गंभीरता से लिया।अस्पताल में फर्नीचर क्रय करने के पूर्व भंडार का भौतिक सत्यापन कराने के बाद ही आवश्यकतानुसार क्रय की कार्यवाही करने का निर्देश संभागायुक्त ने दिया।
 
बैठक में स्वीकृति का अनुमोदन
 
       बौठक में सिम्स चिकित्सालय में 200 केएलडी का ईटीपी स्थापित करने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। सिम्स महाविद्यालय के फार्माकोलाॅजी विभाग में केल लैब और स्किल लैब स्थापना के लिए स्वशासी मद से प्रस्तावित कार्याें का अनुमोदन किया गया। संभागायुक्त ने निर्देश दिया कि छात्रों को कौशल प्रशिक्षण देने के लिए ट्रेड का पंजीयन कराया जाए। संभागायुक्त ने अधिकारियों को बताया कि सामाजिक संस्था और एसईसीएल के सहयोग से सिम्स में एक एक आरटीपीसीआर मशीन लगाया गया है। इसलिए स्वशासी समिति से आरटीपीसीआर मशीन क्रय करने का निर्णय को निरस्त करते हुए सिम्स भवन में तड़ित चालक तत्काल लगाना जाना जरूरी है।
 
लगाया जाएगा लिफ्ट
                  संभागायुक्त ने कहा कि कोविड-19 के तीसरे लहर की संभावना को देखते हुए चिकित्सालय के शिशु रोग वार्ड में ऑक्सीजन गैस पाईपलाइन स्थापित किया जाना बहुत जरूरी है। बैठक में एमबीबीएस प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए हाॅस्टल, महाविद्यालय के लिए नवीन जनरेटर स्थापना, स्नाकोत्तर छात्रावास का रिनोवेशन, सीनियर रेसींडेट हाॅस्टल में लिफ्ट स्थापना, छात्रावास के मरम्मत और विद्युतीकरण के संबंध में निर्णय लिया गया।
 
              बैठक में सिम्स डीन डाॅ. तृप्ति नागरिया, अधीक्षक डाॅ. पुनीत भारद्वाज, उपायुक्त अर्चना मिश्रा, संयुक्त कलेक्टर अंशिका पाण्डेय समेत सिम्स और संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।  
यह भी पढ़े
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close