इंडिया वाल

स्कूल शिक्षा मंत्री भी थिरके मांदर की थाप पर….

सूरजपुर/ छत्तीसगढ़ में स्थानीय और पारंपरिक खेलों को बढ़ावा देने और छत्तीसगढ़ के पारंपरिक खेलों को वैश्विक पहचान दिलाने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर पूरे प्रदेश के साथ सूरजपुर जिले में भी छत्तीसगढ़िया ओलंपिक का आयोजन किया गया। जिसमें बच्चे -बूढ़े सभी प्रतिभागी भाग लेकर अपनी प्रतिभा का जोहार दिखाकर सभी का दिल जीत लिया। सूरजपुर जिला मुख्यालय में चल रहे छत्तीसगढ़िया ओलंपिक में जिले के सभी विकासखण्डों एवं नगरीय निकाय से सभी आयुवर्ग के प्रतिभागी शामिल होकर अपना कला एवं प्रतिभा को दिखाया। जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक समापन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम शामिल हुए। उन्होंने सभी खिलाड़ियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़िया ओलंपिक मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का अभिनव पहल है। इसमें छोटे बड़े बुजुर्ग खेल में शामिल हुए जिससे भाईचारा, प्रेम बढ़ता है एवं भेदभाव को भूलकर एक साथ रह कर एकता का संदेश छत्तीसगढ़िया ओलंपिक देता है। मंत्री डॉ. टेकाम ने कहा कि छत्तीसगढ़ में विलुप्त हो रहे पारंपरिक खेलों को आने वाली पीढ़ी को जानकारी देने एवं संस्कृति को पुनर्जीवित करने के लिए एवं युवाओं को छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेल प्रतियोगिता के माध्यम से प्रतिभा को निखारने इस खेल का महत्व एवं उद्देश्य है। उन्होंने नर्तक दल को पांच पांच हजार रुपए स्वेच्छा ग्राही मद से देने की घोषणा की। इस दौरान उन्होंने पारंपारिक करमा नृत्य, सुआ नृत्य आदि पारंपरिक को देखकर खुद मादर पकड़कर मांदर की थाप पर थिरके।

जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक एवं युवा महोत्सव में छत्तीसगढ़ की पारंपरिक नृत्य एवं पारंपारिक खेल भंवरा,कंचा और पिट्ठुल, खो-खो, कबड्डी, फुगड़ी, करमा,सुआ जैसे पारंपरिक लोकगीत ने सबका दिल मोह लिया सभी ने खूब आनंद लिया।कार्यक्रम के दौरान स्कूल शिक्षा मंत्री भी थिरके मांदर की थाप पर थिरके तथा नर्तक दल के साथ लोक नृत्य का आनंद उठाया मुख्य अतिथि ने छत्तीसगढ़ की पारंपरिक नृत्य एवं पारंपारिक खेल भंवरा,कंचा और पिट्ठुल, खो-खो, कबड्डी, फुगड़ी, करमा,सुआ जैसे पारंपरिक उत्कृष्ट खेल एवं विजेता टीम को मोमेंटो देकर सम्मानित किया।

Board Exam के लिए गाइडलाइन जारी, शिक्षक भी एग्जाम हाल में नहीं ले जाएंगे ये सामान, छात्रों को भी इन नियमों का करना होगा पालन
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS