कलेक्टर ने शत-प्रतिशत व त्रुटिरहित गिरदावरी कार्य पूर्ण करने के दिए निर्देश,एक नवंबर से धान खरीदी

Instructions given for deduction and suspension of absent teacher,

जांजगीर/ कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने खरीफ वर्ष 2022 के लिए जिले के सभी राजस्व अमले को त्रुटिरहित और शुद्धता के साथ गिरदावरी कार्य निर्धारित समयावधि में पूर्ण करने के स्पष्ट निर्देश दिए हैं तथा एक नवंबर से धान उपार्जन समितियों के माध्यम से होने वाले धान खरीदी कार्य के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

कलेक्टर ने गिरदावरी कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही पाए जाने पर संबंधित के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी है। कलेक्टर ने गिरदावरी से संबंधित कार्य समय पर पूर्ण कर खसरा एवं भूइंया सॉफ्टवेयर में प्रविष्टि, ग्रामवार फसल क्षेत्र प्रतिवेदन का प्रारंभिक प्रकाशन, गांव में फसलवार-किसानवार फसल क्षेत्राच्छादन का प्रकाशन कर दावा आपत्ति प्राप्त करना, प्राप्त दावा-आपत्ति का निर्धारित तिथि में निराकरण सहित दावा-आपत्ति के अनुसार खसरा पांचसाला और सॉफ्टवेयर में संशोधन निर्धारित समयावधि में करने के निर्देश दिए हैं।

राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा जारी निर्देशानुसार गिरदावरी कार्य पूर्ण कर खसरा एवं भूइयां सॉफ्टवेयर में प्रविष्टि के लिए 30 सितम्बर 2022 तक अंतिम तिथि निर्धारित की गई है। कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने सभी संबंधित अधिकारियों-कर्मचारियों को 30 सितम्बर तक गिरदावरी कार्य पूर्ण कर खसरा एवं भूइंया सॉफ्टवेयर में प्रविष्टि करने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा कि इसके पश्चात 1 अक्टूबर को गिरदावरी की अंतिम सूची का प्रकाशन ग्राम पंचायत, तहसील कार्यालय और संबंधित सोसाईटी में किया जाएगा। इसके बाद गिरदावरी की अंतिम सूची में किसी भी प्रकार की त्रुटि होने पर संबंधित किसान 1 से 10 अक्टूबर तक तहसील कार्यालय में दावा-आपत्ति कर सकते है। कलेक्टर ने सभी राजस्व अधिकारियों को दावा-आपत्ति के प्राप्त आवेदनों का निर्धारित समय सीमा में प्राथमिकता से निराकरण करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही कलेक्टर ने गिरदावरी के अंतिम सूची का कोटवारों के माध्यम से जमीनी स्तर पर व्यापक प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करते हुए पंचनामा भी कराने के निर्देश दिए हैं। जिससे गिरदावरी कार्य में किसी भी प्रकार की त्रुटि पाए जाने पर किसानों के हित में इसका निर्धारित समय-सीमा में निराकरण किया जा सके। कलेक्टर ने कहा कि गिरदावरी का कार्य किसानों के हित में अत्यंत महत्वपूर्ण कार्य है, इसलिए गिरदावरी का कार्य पूर्ण शुद्धता से करते हुए समस्त राजस्व रिकार्ड अद्यतन रखने के निर्देश दिए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *