उसूर ब्लाॅक के धुर नक्सली प्रभावित ग्राम गलगम में खुला पुलिस कैम्प, IG-DIG, कलेक्टर व एसपी पहुंचे कैम्प,अब उसूर से पामेड़ को जोड़ने वाली सड़क निर्माण में आयेगी तेजी

बीजापुर– जिले के दूरस्थ उसूर ब्लाक अंतर्गत धुर नक्सली प्रभावित ग्राम गलगम में जिला पुलिस के डीआरजी और सीआरपीएफ का संयुक्त कैम्प खोला गया है। आज पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज सुंदरराज पी., डीआईजी सीआरपीएफ श्री कोमल सिंह, कलेक्टर श्री रितेश कुमार अग्रवाल और एसपी कमलोचन कश्यप सहित सीआरपीएफ के अन्य अधिकारियों ने गलगम पुलिस कैंप पहुँचकर जवानों से भेंटकर विषम परिस्थिति में सुरक्षा देने के लिए उनका उत्साहवर्धन किया। इस मौके पर आईजी बस्तर रेंज सुंदरराज पी. ने जवानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि यह बहुत महत्वपूर्ण कैम्प है, जिससे इस बीहड़ ईलाके में विकास के द्वार खुलेंगे। उन्होने शासन की विश्वास, विकास और सुरक्षा त्रिवेणी ध्येय पर विकास को सुनिश्चित करने हेतु बल देते हुए जवानों से कहा कि बस्तर के जनसाधारण सीधे, सरल एवं सहज स्वभाव के हैं, इनका सबसे पहले विश्वास हासिल करें, उनसे अच्छा व्यवहार करने सहित जरूरत के अनुरूप इनकी मदद करें।

आईजी ने जवानों को सजग रहकर दायित्व निर्वहन करने की समझाईश देते हुए कहा कि हमें बहुत अच्छा ट्रेनिंग मिला है हमारे पास अत्याधुनिक हथियार हैं। हमें अपना मनोबल ऊंचा रखकर योजनाबद्ध ढंग से ऑपरेशन चलाकर बस्तर से माओवाद को समूल खत्म करना है। इस दौरान डीआईजी सीआरपीएफ श्री कोमलसिंह ने जवानों से गांव के लोगों के साथ पड़ोसी की तरह व्यवहार करने की समझाईश देते हुए कहा कि बच्चे, बुजुर्ग, महिलाओं से तहजीब के साथ बातचीत करें। उन्हे चिकित्सकीय या अन्य कोई आपातकालीन जरूरत होने पर तुरंत मदद करें। जिससे उनके मन में हमारे प्रति विश्वास बढ़े।

उन्होने जवानों को आगामी 6 महीने का लक्ष्य निर्धारित कर नक्सलियों के विरूद्ध ऑपरेशन चलाकर सफलता हासिल करने कहा। इस मौके पर कलेक्टर श्री रितेश कुमार अग्रवाल ने जवानों से कहा कि ग्रामीणों से अच्छा व्यवहार करने सहित उनकी सहायता करेंगे तो वे स्वयं सहयोग के लिए आगे आयेंगे। उन्होने इस क्षेत्र की विषम परिस्थिति में सजगता और अनुशासन के साथ सेवाएं देने जवानों से कहा। कलेक्टर श्री अग्रवाल ने कहा कि इस कैम्प के खुलने पर अब उसूर से पामेड़ तक जोड़ने वाली सड़क निर्माण में गति आयेगी। उन्होने जवानों को बिजली लगाने एवं मोबाईल टाॅवर स्थापित करने के लिए शीघ्र पहल किये जाने आश्वस्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *