TOP NEWS

सोमवार से तीन दिनों के लिए उद्योगों में रोज तीन घण्टे 75 प्रतिशत तक बिजली कटौती

किसी भी स्थिति में किसानों को बिजली की आपूर्ति प्रभावित नहीं होनी चाहिए

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार कृषि के लिए पर्याप्त बिजली उपलब्ध करवाने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसी भी स्थिति में किसानों को बिजली की आपूर्ति प्रभावित नहीं होनी चाहिए। इसके लिए आवश्यकता पड़ने पर पावर एक्सचेंज और अन्य स्रोतों से बिजली की खरीद सुनिश्चित की जाए।
श्री गहलोत शनिवार को मुख्यमंत्री निवास पर विद्युत आपूर्ति की स्थिति की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। बैठक में विद्युत विभाग के अधिकारियों ने बताया कि वर्तमान में पावर एक्सचेंज से राज्य को अतिरिक्त बिजली की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। इसका कारण उŸार प्रदेश, हरियाणा और पंजाब की कुछ बिजली उत्पादन इकाइयों का बंद होना और अन्य राज्यों में बिजली की मांग बढ़ना है।
इसके साथ ही सर्दियों के दिनों में राजस्थान और देश के अन्य राज्यों में अब तक बारिश ना होने, कृषि रकबे में बढ़ोतरी और पिछले रबी मौसम के बाद राज्य में कृषि कनेक्शनों में 1.20 लाख की बढ़ोतरी होने से भी बिजली की मांग में वृद्धि हुई है। इसके अलावा कोहरे के कारण वर्तमान में कोल इण्डिया और अन्य कम्पनियों से मिलने वाले कोयले की आपूर्ति में विलम्ब हो रहा है, जिसे सामान्य करने की कोशिश की जा रही है।
बैठक में बताया गया कि घरेलू और कृषि कार्याें के लिए पर्याप्त बिजली की आपूर्ति के लिए उद्योगों को मिल रही बिजली में कटौती करनी पड़ रही है, लेकिन जैसे ही बिजली की आपूर्ति सामान्य होगी, यह कटौती समाप्त कर दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने उद्योगों से आग्रह किया कि वे बिजली कटौती की स्थिति में विद्युत कम्पनियों के निर्देशों का पालन करें और उनका सहयोग करें।  इस बीच राज्य सरकार ने 125 केवीए क्षमता से अधिक उपयोग वाले उद्योगों पर सोमवार से तीन दिन के लिए प्रतिदिन तीन घण्टे (सायंकाल 5 से 8 बजे) 75 प्रतिशत तक कटौती करने का निर्णय लिया है।
बैठक में बताया गया कि वर्तमान में शाम को 5 से 8 बजे के बीच विद्युत आपूर्ति में पीक लोड के कारण पिछले दो दिनों से व्यवधान आया है, लेकिन इसके बावजूद फिलहाल राज्य को रात के समय सरप्लस बिजली ग्रिड में देनी पड़ रही है, वहीं दिन के समय ग्रिड से अतिरिक्त बिजली लेनी पड़ रही है। इसके साथ ही राज्य के बिजली घरों को मिलने वाले कोयले की आपूर्ति में भी लगातार सुधार हो रहा है तथा राज्य के अधिकारी इसके लिए रेल मंत्रालय से निरंतर सम्पर्क में हैं। इससे जल्द ही बिजली की आपूर्ति सुचारू होने की संभावना है।
बैठक में ऊर्जा मंत्री श्री भंवरसिंह भाटी, प्रमुख शासन सचिव ऊर्जा विभाग श्री भास्कर ए. सावंत, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक राजस्थान विद्युत उत्पादन निगम श्री आरके शर्मा, प्रबंध निदेशक जयपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड श्री अजीत कुमार सक्सेना, प्रबंध निदेशक जोधपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड श्री प्रमोद टाक, प्रबंध निदेशक अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड श्री एनएस निर्वाण सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। 

CG News-BEO अटैच,अब इन्हें मिला प्रभार..आदेश जारी
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS