मेरा बिलासपुर

January 2023 Pradosh Vrat: जनवरी 2023 में कब है प्रदोष व्रत और एकादशी? जानिये तारीख और पूजा विधि

January 2023 Pradosh Vrat: साल 2023 के शुरुआती माह में ही कई व्रत पड़ रहे हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जनवरी माह पूजा-पाठ के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। जनवरी 2023 के पहले सप्ताह में ही कई महत्वपूर्ण व्रत पड़ रहे हैं।ज्योतिष शास्त्र के अनुसार 2 जनवरी 2023 को पौष पुत्रदा एकादशी का व्रत पड़ रहा है। वहीं 4 जनवरी 2023 को प्रदोष व्रत पड़ रहा है।मान्यता के अनुसार इस व्रत को रखने और विधि-विधान व श्रद्धापूर्वक भगवान विष्णु की पूजा करने से संतान की प्राप्ति होती है। यह एकादशी पौष मास में पड़ती है। इसलिए इसे पौष पुत्रदा एकादशी कहा जाता है। वहीं इस व्रत के प्रभाव से संतान की रक्षा होने की भी मान्यता है।

पौष पुत्रदा एकादशी पूजा विधि

-व्रत से पूर्व दशमी के दिन सात्विक भोजन करना चाहिए और ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए।
-प्रात: काल स्नान के बाद साफ कपड़े पहनें।
-गंगा जल, तुलसी दल, तिल आदि से भगवान नारायण की पूजा करें।
-इस व्रत में शाम के समय पूजा के बाद ही फलाहार करना चाहिए।

प्रदोष व्रत का महत्व

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार प्रदोष व्रत हर माह में कुष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि को पड़ता है। सूर्यास्त के बाद और रात्रि से पहले के समय को प्रदोष काल कहा जाता है। इस व्रत में भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। मान्यता है कि प्रदोष का व्रत रखने और भगवान शिव की विधि-विधान से पूजा करने से सभी संकट दूर हो जाती है। साथ ही घर में सुख-समृद्धि भी आती है।

प्रदोष पूजा विधि

-प्रात: काल स्नान करें और साफ कपड़े पहनें।
-गंगा जल से पूजा स्थन को स्वच्छ करें।
-गंगा जल, बेल पत्र, शमी पत्ते आदि से भगवान शिव की पूज करें।
-शिव चालीसा का पाठ करें और आरती करें।

जज्बा सोसायटी का एलान..मरीजों को दिलाएंगे ब्लड

जनवरी 2023 में पड़ने वाले व्रत

2 जनवरी पौष पुत्रदा एकादशी, 4 जनवरी प्रदोष व्रत, 6 जनवरी पौष पूर्णिमा, 10 जनवरी संकष्टी चतुर्थी, 14 जनवरी लोहड़ी, 15 जनवरी मकर संक्रांति,18 जनवरी षटतिला एकादशी,19 जनवरी प्रदोष व्रत

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS