कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिए जाने की टाइमिंग पर प्रशांत किशोर ने उठाए सवाल

Shri Mi
2 Min Read

नई दिल्ली/ जन सुराज के सूत्रधार व राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कहा है कि जननायक कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न मिलना बहुत अच्छी और स्वागत योग्य बात है। हालांकि उन्होंने इसकी टाइमिंग पर सवाल उठाए हैं।

Join Our WhatsApp Group Join Now

पीके ने मीडिया से कहा कि जननायक कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिए जाने की मांग बिहार और देश में लंबे समय से की जा रही थी। लेकिन, ये सब बातें चुनाव के एक से दो महीने पहले इसलिए की जाती हैं, ताकि लोग अपनी 5 साल की समस्या को भूलकर दोबारा इन्हीं सब बातों में आकर, बहकर फिर से वही गलती कर दे और उन्हें ही वोट करे।

उन्होंने कहा कि बिहार के लोगों को एक बात जो मैं कहना चाहता हूं वह यह कि अगर लोग लगातार ऐसे ही गलती करेंगे, तो यहां की स्थिति वैसे ही बनी रहेगी, जैसे पहले से है। ऐसा तो नहीं है कि बिहार ने लालू यादव का शासन नहीं देखा, नीतीश कुमार या नरेंद्र मोदी का शासन नहीं देखा।

पिछले 10 सालों से नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री हैं, इससे बिहार में बेरोजगारी में क्या कमी आ गई? उससे बिहार में पलायन तो रूका नहीं।

प्रशांत किशोर ने कहा कि इससे पहले जब केंद्र में यूपीए की सरकार थी, तब भी बिहार की दशा यही थी। ये बात ही बेमानी है कि किसने बिहार का भला किया और किसकी वजह से बिहार का नुकसान हुआ। जितने भी दल और नेता बिहार में रहे, उन्होंने जो काम किया या करने का दावा कर रहे हैं उनके विकास कार्यों को सही मान भी लें तो भी इससे कोई इनकार नहीं कर सकता है कि पूरे देश में सबसे पिछड़ा, गरीब और भुखमरी वाला राज्य बिहार है। बिहार की जनता को यह सोचना है कि देश तेजी से आगे बढ़े, लेकिन बिहार पहले से जहां था आज भी वहीं है।

By Shri Mi
Follow:
पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
close