रामलला के दर पर आ सकते हैं राहुल व प्रियंका, अयोध्या के संत समाज ने जताई प्रतिक्रिया

अयोध्या। कांग्रेस नेताओं के अयोध्या आने की सुगबुगाहट से अयोध्या के संतो में बेचैनी बढ़ गयी है। संत समाज राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के अयोध्या दौरे को लेकर कटाक्ष करते नजर आ रहे हैं। संत समाज का कहना है कि अब राहुल और प्रियंका गांधी को अयोध्या आने की जरूरत नहीं हैं, क्योंकि जब उनको रामलला के प्राण प्रतिष्ठा का निमंत्रण दिया गया था, तब उन्होंने ठुकरा दिया था।

Join Our WhatsApp Group Join Now

अयोध्या के संतों का कहना है कि यही कांग्रेस और उनके नेता हैं, जो राम को काल्पनिक बताते थे। रामलला को इतने सालों तक इन्होंने टेंट में रखा। ये वहीं लोग हैं, जो संतों को आईएसआईएस और बोको हराम से जोड़ देते हैं, जो मंदिरों जाने वाले युवाओं पर अभद्र टिप्पणी करते हैं।संतों ने कहा है कि अब राहुल गांधी को मथुरा जाना चाहिए। श्री कृष्ण जन्मभूमि पर दर्शन करें और यमुना जी का जल हाथ मे लेकर संकल्प लें कि जैसे अयोध्या में भव्य मंदिर का निर्माण हुआ है, वैसे ही मथुरा में शाही ईदगाह को हटाकर भक्त श्री कृष्ण के स्थान पर मंदिर का निर्माण किया जाएगा।हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने कहा कि राहुल और प्रियंका अयोध्या आ रहे हैं। अयोध्या आने पर उनका स्वागत है, लेकिन अभी राहुल गांधी और प्रियंका को भगवान श्री कृष्ण की जन्म भूमि पर जाने की आवश्यकता है।

राजू दास ने आगे कहा कि यही कांग्रेस और कांग्रेस के नेता हैं, जिन्होंने रामलला को काल्पनिक बताया। इतने सालों तक राम को टेंट में रखा। संतो को आईएसआईएस और बोको हराम से जोड़ दिया। कांग्रेस के नेता कहते हैं कि मोदी मजबूत होगा, तो सनातन मजबूत होगा।

राजू दास ने आगे कहा कि ऐसे शब्दों से कांग्रेस के नेता सनातनियों को नवाजते हैं। सनातन को टाइफाइड मलेरिया और डेंगू बताते हुए मिटाने की बात करते हैं।

राजू दास ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि इस तरह के शब्द कांग्रेस के नेता बोलते हैं, लेकिन फिर भी आप लोग आते हैं, तो आपका स्वागत है। अगर आप वाकई में सनातनी हैं, तो पहले मथुरा जाएं और संकल्प लें कि जैसे अयोध्या में राम मंदिर बना, वैसे ही शाही ईदगाह को हटाकर श्री कृष्ण के जन्म स्थान पर मंदिर बनाएंगे। कृष्ण जन्मभूमि मंदिर का निर्माण राहुल गांधी कराएंगे, तब हम मानेंगे राहुल गांधी हिंदुस्तान के रहने वाले हैं और सनातनी हैंं, नहीं तो हिंदू समझ जाएगा कि आप कालनेमि हैं और शुद्ध रूप से वोट की राजनीति कर रहे हैं।

राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के उत्तराधिकारी महत कमल नयन दास ने कहा कि राहुल गांधी को भारत से कुछ लेना ही देना नहीं हैं। राहुल गांधी के पूर्वजों ने देश को खूब ठगा और लूटा है। यह वहीं राहुल गांधी है, जो वीर सावरकर को गाली देते घूमते हैं। राहुल गांधी ने जो कुछ भी किया है उसके लिए भगवान उनको क्षमा नहीं करेंगे, राहुल गांधी के पूर्वज गद्दार थे, उन्होंने देश के साथ गद्दारी की है, इसका जीता जागता प्रमाण कश्मीर है।

संकटमोचन सेवा के राष्ट्रीय अध्यक्ष महान ज्ञान दास के उत्तराधिकारी महंत संजय दास ने कहा कि भगवान रामलला सब की आस्था के केंद्र हैं। यहां हर कोई आकर आशीर्वाद ले सकता है। जब प्राण प्रतिष्ठा हुई थी, तब उनको आना चाहिए था। भगवान रामलला आस्था के केंद्र हैं। वह प्रेरणा के स्रोत हैं, जो उनके चरणों में नतमस्तक होगा उसके ऊपर प्रभु की कृपा होगी।

                   

Shri Mi

पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
Back to top button
close