पढ़ेंः DGP ने जांजगीर एसपी को क्या कहा..महकमें में मची हलचल.. कांकेर पुलिस कप्तान से क्यों कहा.. देवेश की करें मदद..फिर लोग करने लगे तारीफ

रायपुर— पुलिस की सहज सुलभ और पारदर्शी अभियान के तहत डीजीपी डीएम अवस्थी ने समाधान अभियान के तहत आयी शिकायतों का तत्काल निराकरण किए जाने का निर्देश पुलिस के आलाधिकारियों को दिया है। डीजीपी के इस प्रयास की हर तारीफ हो रही है।

               डीजीपी डीएम अवस्थी ने मंगलवार को समाधान कार्यक्रम में मिली शिकायतों पर पुलिस अधीक्षकों और थाना प्रभारियों से वीडियो कॉल पर बातचीत की है। डीजीपी ने जांजगीर जिले के सक्ती थाना इलाके से एक प्रार्थी की शिकायत को गंभीरता से लेते हुुए अधिकारियों को तत्काल निराकरण करने का आदेश दिया है। 

              डीजीपी ने बताया कि दो माह पहले पीड़ित पर प्राणघातक हमला हुआ था।  जिसमें उसे गंभीर चोटें आयी थीं। लेकिन आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। अवस्थी ने जांजगीर पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर और सक्ती थाना प्रभारी को निर्देश दिया कि आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की जाए। गिरफ्तारी के बाद उन्हें मामले से अवगत भी कराया जाए।
 
                   वीडियो काल पर डीजीपी ने सूरजपुर निवासी अमरेश कुमार दुबे की शिकायत को गंभीरता से लेने को कहा। डीजीपी ने बताया कि प्रार्थी ने अपनी शिकायत में लिखा है कि अंबिकापुर में उनकी बेटी की मृत्यु डॉक्टरों की लापरवाही की वजह से हुई है। अब तक दोषी के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई है। इस दौरान  डीजीपी ने सरगुजा पुलिस अधीक्षक टीआर कोशिमा को निर्देश दिया कि  सिविल सर्जन को पत्र लिखकर डॉक्टर की लापरवाही पर जॉच करायें।
 
           डीजीपी ने बीजापुर पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिया कि पीड़ित के बेटे की दुर्घटना में मौत हो गयी है।  जिस व्यक्ति ने दुर्घटना का अंजाम दिया उसकी गिरफ्तारी की जाए। इसी तरह डीजीपी अवस्थी ने  राजनांदगांव और धमतरी पुलिस अधीक्षक से कहा कि क्षेत्र से लगातार अवैध शराब बिक्री की शिकायत मिल रह ीहै। अवैध शराब के विरूद्ध सघन अभियान चलाया जाए।
 
      अवस्थी ने कांकेर पुलिस अधीक्षक को बताया कि उड़कुड़ा थाना निवासी देवेश कुमार साहू को कम सुनाई देता है। उन्होने श्रवण यंत्र की मांग की है। पुलिस देवेश की मदद करे। जल्द से जल्द श्रवण यन्त्र उपलब्ध कराए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *