पढ़ें..किसने कहा..सरकार को माफियों ने बनाया बंधक..2 साल से जमकर हो रही लूट..3 अंक देकर कहा..बहुत ज्यादा

बिलासपुर—- पूर्व कृषि मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता चन्द्रशेखर साहू ने कहा कि मैं डॉ.रमन सिंह के बातों से इत्तफाक नहीं रखता । बल्कि उनके बयान से एक कदम आगे जाकर कहूंगा कि प्रदेश सरकार को माफियों ने बंधक बना लिया है। पिछले दो साल से हर तरह त्राहि त्राही मची हुई है। किसान आत्महत्या कर रहे है। कोयला, रेत, और जमीन माफियों के लिए कांग्रेस सरकार ने दो साल में लूट के लिए मानों मैदान तैयार कर दिया है। किसानों को भी समझ में आ गया है कि उन्होने कांग्रेस की सरकार बनवाकर बहुत बड़ी गलती कर दी है।

               एक दिन प्रवास पर पूर्व कृषि मंत्री और भाजपा नेता आज बिलासपुर पहुंचे। उन्होंने पत्रकारों से  बातचीत के दौरान भूपेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। चन्द्रशेखर साहू ने कहा कि जनता और किसान आज अपने आप को ढगा महसूस कर रहे हैं। हर तरफ अराजकता का माहौला है।

               चन्द्रशेखर साहू ने कहा कि पूर्व मुख्यंत्री डॉ. रमन सिंह कहते हैं कि प्रदेश सरकार लिकर, लैण्ड, सैण्ड और कोल माफियों को संरक्षण दे रही है। बल्कि मैं उनसे आग जाकर कह सकता हूं कि प्रदेश सरकार को माफियों ने बंधक बना लिया है। हर तरफ माफियों का बोलबाला है। माफिया जैसा चाहते हैं प्रदेश सरकार वही कर रही है। नक्सल समस्या एक बार फिर सिर उठा लिया है। नक्सली कहते भी हैं सरकार उनकी है। इसलिए डरने की कोई बात नहीं है।

               13 जनवरी और 22 फरवरी को राज्यस्तरीय भाजपा किसान आंदोलन के सवाल चन्द्रशेखर साहू ने बताया कि आंदोलन सरकार का आंख कान खोलने के लिए और किसानों के सम्थन में किया जाएगा। 13 जनवरी को प्रदेश के प्रत्येक विधानसभा में किसानों के साथ आंदोलन किया जाएगा। किसान सरकार की वादा खिलाफी को लेकर नाराजगी जाहिर करेंगे।  2500 रूपए धान का समर्थन मूल्य मांगा जाएगा।

               पूर्व कृषि मंत्री ने कहा प्रदेश में जमकर भ्रष्टाचार है। धान का उठाव नहीं किया जा रहा है। समय पर विक्री नहींं होने से किसान आत्महत्या करने को मजबूर है। धान बेचने के लिए खरीदी केन्द्रों में रूपए मांगे जा रहे हैं। राजनांदगांव, कोंडा गांव में किसानों  को रकबा घटने और फसल नहीं बिकने से आत्महत्या के लिए मजबूर होना पड़ा है। जांजगीर में धान का ऊठाव पूरी तरह से ठहर गया है। किसान फसल को औने पौने दाम में बेचने को मजबूर हैं। यदि ऐसा वह नहीं किया तो परिवार के सामने भूखे मरने की स्थिति आ जाएगी।

             9000 करोड़ रूपए के सवाल पर कहा कि राज्य सरकार को प्राप्त हुआ है। प्रदेश सरकार इस बात से इंकार नहीं कर सकती है। सब कुछ प्रक्रिया के तहत किया गया है।

            किसान आंदोलन के सवाल पर चन्द्रशेखर ने बताया कि प्रधानमंत्री दिन रात मेहनत कर रहे है। किसानों के हितों को ध्यान में रखकर ही कृषि कानून लाया गया है। दरअसल किसानों को भ्रम में रखकर आंदोलन करवाया जा रहा है। चन्द्रशेखर साहू ने आंदोलन के दौरान मरने वाले किसानों के सवाल को टाल दिया।

        भूपेश सरकार के दो साल के काम काज को लेकर चन्द्रशेखर साहू  ने असंतोष जाहिर किया। उन्होने कहा कि सरकार सभी मोर्चे पर फेल है।  फिर भी तीन साल अभी बाकी है। दो साल के काम काज पर चन्द्रशेखर साहू ने राज्य सरकार को दस में तीन अंक दिया।  और दोहराया कि यह अंक भी बहुत ज्यादा है।              

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *