अध्यापक पात्रता परीक्षा पेपर लीक मामला-भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री निवास तक किया कूच,पुलिस लाठीचार्ज,पानी की बौछारें

जयपुर-राजस्थान में अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) पेपर लीक मामले की केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) जांच की मांग को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां के नेतृत्व में भाजपा युवा मोर्चा सहित पार्टी के सभी मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने आज मुख्यमंत्री निवास तक कूच किया.सभी कार्यकर्ता भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर एकत्रित हुए और डा पूनियां के नेतृत्व में भाजपा प्रदेश कार्यालय से लेकर मुख्यमंत्री निवास तक सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने कूच किया। रीट की परीक्षा में हुई धांधली में सीबीआई (CBI) जांच को लेकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने आह्वान भाजपा, युवा मोर्चा सहित सभी मोर्चा के कार्यकर्ताओं को प्रदर्शन करने का आह्वान किया था. इसके तहत भाजपा युवा मोर्चा की ओर से भाजपा प्रदेश मुख्यालय से लेकर मुख्यमंत्री निवास के घेराव का आह्वान किया गया. सीएम आवास घेराव के लिए आज बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय से कूच किया. 

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने राजमहल चौराहे पर जोर अजमाइश कर पुलिस बैरिकेडिंग तोड़ी. इसके बाद पूनिया और कार्यकर्ता आगे बढ़े तो दूसरी बैरिकेडिंग पर पुलिस ने फिर रोका. यहां भी कुछ कार्यकर्ता बेरिकेडिंग पर चढ़कर आगे बढ़ गए. इसके बाद एक और बेरिकेडिंग तोड़कर कार्यकर्ता सिविल लाइन फाटक पर पहुंचे. पूनिया और कार्यकर्ता सिविल फाटक को पार करने का प्रयास करने लगे. इस बीच पुलिस ने कार्यकर्ताओं को खदेड़ने के लिए लाठी चार्ज किया. 

पुलिस लाठीचार्ज के बाद भी कार्यकर्ता वहां से नहीं हटे. इसके बाद पुलिस का घेरा बढ़ा तो पूनिया और कार्यकर्ता धरने पर बैठ गए. इस दौरान पुलिस ने वाटर केनन से पानी की बौछार की लेकिन, कार्यकर्ता नहीं मानें. इसके बाद में पूनिया सहित कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया और तीन बसों में भरकर झोटवाड़ा थाने लेकर गए. 

इधर पुलिस लाठीचार्ज और बेरिकेडिंग पार करने की जद्दोजहद में पुलिस कार्रवाई में कई भाजपा कार्यकर्ता घायल हो गए. घायल कार्यकर्ता सड़क पर पड़े रहे, लेकिन पुलिस ने करीब एक घंटे तक एम्बुलेंस नहीं बुलाई. इसको लेकर कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. बाद में एम्बुलेंस से घायल कार्यकर्ताओं को सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया. हिरासत में लेने के बाद पूनिया और भाजयुमो कार्यकर्ताओं को झोटवाड़ा थाने ले जाया गया. पूनिया (Satish Poonia Protest)और कार्यकर्ता झोटवाड़ा थाने में धरने पर बैठ गए. बाद में आला पुलिस अधिकारियों ने समझाइश कर धरने से उठाया. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *