मैदानी स्तर के अधिकारी-कर्मचारियों की फील्ड में नियमित रूप से उपस्थिति सुनिश्चित की जाय

नारायणपुर। कलेक्टर ऋतुराज रघुवंशी ने कहा कि शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं के सफल क्रियान्वयन में मैदानी स्तर पर कार्य कर रहे अधिकारी-कर्मचारियों की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण होती है। इसलिए मैदानी स्तर के अधिकारी-कर्मचारियों को नियमित रूप से फील्ड में उपस्थित रहकर एवं आम जनता से सतत समन्वय स्थापित कर अपने दायित्वों का निर्वहन करना आवश्यक है। उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को मैदानी स्तर पर कार्य करने वाले पटवारी, ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी आदि अधिकारी-कर्मचारियों की उपस्थिति पूरे समय फिल्ड में सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा कि सभी जिलाधिकारी भी नियमित रूप से फील्ड में जाकर नियमित निगरानी और निरीक्षण करें। कलेक्टर श्री रघुवंशी ने आज कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में आयोजित साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में विभिन्न विभागों की कार्यों की विस्तृत समीक्षा की। बैठक में अपर कलेक्टर अभिषेक गुप्ता, एसडीएम जितेंद्र कुर्रे, डिप्टी कलेक्टर वैभव क्षेत्रज्ञ, रामसिंग सोरी, सुमित बघेल, के अलावा अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे। बैठक में कलेक्टर ने राज्य शासन के विशेष प्राथमिकता वाले महत्वाकांक्षी नरवा, गरूवा, घुरूवा एवं बाड़ी योजना के कार्यों की समीक्षा करते हुए प्रत्येक गौठानों में गोबर खरीदी और वर्मीकम्पोस्ट खाद की जानकारी ली।

रघुवंशी ने मुख्यमंत्री हाट बाजार योजनाओं को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को जिले में इसके सफल क्रियान्वयन हेतु समुचित उपाय सुनिश्चित कराने को कहा। कलेक्टर ने वन विभाग जिला पंचायत, लोक निमार्ण विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, सीएसपीडीसीएल, जिला महिला एवं बाल विकास विभाग, क्रेडा, जिला शिक्षा अधिकारी, सहायक आयुक्त, नगरपालिका परिषद, श्रम विभाग, भू-अभिलेख, स्वास्थ्य विभाग, निर्वाचन शाखा, कृषि विभाग में लंबित प्रकरणों की बारी बारी से समीक्षा की। गर्मी के मौसम को देखते हुए ग्रामीणों को पेयजल की समस्या न हो इसका नियमित रूप से समीक्षा की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *