ऋचा जोगी जाति मामलाः भाई ऋषभ छानबीन समिति के सामने पेश..बताया आवेदन मेरा..मेल भी मेरा..मोबाइल नम्बर भी उसका..अब 12 को होगी पेशी

बिलासुर—-ऋचा जोगी जाति सर्टिफिकेट मामले में नया मोड़ आ गया है। दोपहर 4 बजे के आस पास छानबीन समिति के सामने डॉ.ऋचा जोगी का भाई ऋषभ सुशील साधु उपस्थित हुए। उन्होने बताया कि मामले में ऋचा जोगी की कोई भूमिका नहीं है। मैने ही आवेदन दिया…मेल भी मेरा है..मोबाइल भी उसी का है। छानबीन सिमिति ने ऋषभ से लिखित में आवेदन लेकर..12 अक्टूबर को बुलाया है। बताया जा रहा है कि इसी दिन छानबीन समिति निर्णय भी करेगी।

                गुरूवार को डॉ. ऋचा जोगी का भाई ऋषभ सुशील साधु लिखित स्पष्टीकरण के साथ मुंगेली जिला कार्यालय में छानबीन समिति के सामने पेश हुए। उन्होने लिखित में सात सदस्यी जांच समिति को बताया कि ऋचा जोगी का जाति आवेदन बनाने का आवेदन उसी ने किया था। आवेदन में  दिया गया मोबाइल नम्बर भी उसी का है। ऋषभ ने जांच समिति को जानकारी दी कि दिया गया ईमेल आईडी उसी का है। इस पूरे प्रकरण में ऋचा जोगी की कोई भूमिका नहीं है। 

                            बताते चलें कि सात सदस्यीय छानबीन समिति में एडीएम पदेन अध्यक्ष राजेश नशीने और पदेन सचिव शिल्पा सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग के अलावा अजाक थाना डीएसपी मोनिका मौजूद थी। इसके अलावा समिति के अन्य सदस्यों में समाज कल्याण विभाग अधिकारी, जिला शिक्षा विभाग अधिकारी दिव्य, उद्योग विभाग अधिकारी एमएल कुसरे, ऊर्जा अनुसंधान विभाग अधिकारी उषा लकड़ा उपस्थित थी। 

            ऋषभ को समिति की तरफ से मेल और पत्र के माध्यम से 8 अक्टूबर को दोपहर 3 से पांच बजे के बीच कलेक्टर कार्यालय में पेश होने को कहा गया था। समिति के सदस्यों ने ऋषभ के आवेदन लेने और बातचीत के बाद 12 अक्टूबर को दुबारा पेश होने को कहा है। जानकारी मिल रही है कि छानबीन समिति की तरफ से 12 अक्टूबर को ही अंतिम फैसला किया जाएगा। 

12 को पेश करना होगा यह दस्तावेज

           सूत्रों के अनुसार सात सदस्यीय छानबीन समिति के साथ करीब एक घंटे ऋषभ की बातचीत हुई। छानबीन समिति ने ऋषभ की तरफ से पेश किए गए दस्तावेजों की जांच पड़ताल की गयी। ऋषभ ने इस दौरान सवालों का जवाब दिया। ऋषभ समिति ने पेश किए गए दस्तावेजों के अलावा अन्य जरूरी दस्तावेजों की मांग की।      

                 सूत्र ने बताया कि समिति ने ऋषभ से परिवार का वंश बृक्ष की प्रमाणित जानकारी पेश  करने को कहा। समिति ने जमीन जायजाद की रजिस्ट्री दस्तावेज मांगा। इसके अलावा जाजि को सत्यापित करने वाले कागजात पेश करने को कहा है।

                          तीनों दस्तावेद पेश करने के लिए ऋषभ ने समय मांगा। ऋषभ की ही मांग पर समिति 12 अक्टूबर को सारे दस्तावेज की मूलप्रति के साथ पेश होने को कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *